यूपी बोर्ड की 12वीं की परीक्षा रद्द, परिणाम के लिए बनाए गए दो फार्मूले

कोरोना के मद्देनजर उत्तर प्रदेश सरकार ने भी अपनी बोर्ड की परीक्षा रद्द कर दी है । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अगुवाई में हुई बैठक के बाद यह फैसला लिया गया । इससे पहले सीबीएसई और आईसीएसई की 12वीं की परीक्षा रद्द कर दी गई थी। केंद्र के इस फैसले के बाद कई बोर्ड ने अपनी परीक्षाएं रद्द कर दी हैं । यूपी बोर्ड की 12वीं की परीक्षा के लिए 26 छात्र पंजीकृत थे ।

आपको बता दें कि यूपी बोर्ड की हाईस्कूल की परीक्षाएं पहले ही रद्द कर दी गई हैं । फिलहाल छात्रों के साथ उनके माता-पिता की बड़ी राहत सरकार ने दी है ।

जिस तरह से तीसरी लहर आने की संभावना जताई जा रही है ऐसे में बच्चों की परीक्षा कराना सबके लिए गले की फांस बन गयी थी ।

पीएम मोदी के फैसले के बाद सबसे पहले सीबीएसई की 12वीं की परीक्षा रद्द की गई और फिर बाकी बोर्ड ने भी इस फैसले के साथ अपना समर्थन देते हुए अपनी बोर्ड की परीक्षा रद्द कर दी।

यूपी बोर्ड की परीक्षा रद्द किए जाने के बाद डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने बताया कि 12वीं की परीक्षा परिणाम के लिये कैसे दो फार्मूले तय किये गए हैं ।

यह है फार्मूला

■ 10 वी ११ के नंबर के औसत कै आधार पर 12 का रिजल्ट तय होगा ।

■ अगर कहीं ११ वी की परिक्षाये नहीं हो पायी है तो वहा 10 वी व १२ के प्रीबोर्ड के नंबर जोडकर 12 का रिजल्ट तैयार होगा ।

■ इसके बाद भी १० वी की तरह 12 के छात्रों के सामने विकल्प होगा की वह नंबरो के इंप्रूवमेंट के लिये १ विषय या सभी विषयों में परीक्षा दे सकेगा ।

■ परीक्षा 2022 के बोर्ड इक्जाम से पहले करायी जायेंगी और छात्रों को मार्कशीट 2021 की दी जायेगी।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!