ऑनलाइन मोड में मनाया गया विश्व दुग्ध दिवस

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

पीलीभीत । समाधान विकास समिति विपनेट क्लब के तत्वावधान में भारत की हो परिपाटी,कॉकटेल नहीं मिल्क पार्टी के स्लोगन विश्व दुग्ध दिवस के अवसर पर ऑनलाइन आयोजित कार्यक्रम में प्रतिभागियों ने व्यक्त किए। विशेषज्ञ वक्ता डॉ हरिशंकर मिश्रा प्रभारी चिकित्सालय, ललित हरि आयुर्वेदिक राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय ने बताया कि दूध एक संपूर्ण आहार है तथा संतुलित आहार के सभी तत्व कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, वसा, खनिज पदार्थ ,जल इसमें उपस्थित होते हैैं। आंकड़े बता रहे हैं कि समाज ने इसे जाना है, क्योंकि कोविड संक्रमण कॉल दूध की मांग बढ़ी है। दुग्ध में आयरन की कमी को हम हरी सब्जियां फल आदि खाकर पूरा कर सकते हैं। दूध में हल्दी मिलाकर हम गोल्डन मिल्क का सेवन कर सकते हैं, क्योंकि इसकी गुणवत्ता सामान्य दूध से कहीं अधिक होती है। रोशनी मिश्रा ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि गर्भवती महिलाओं के लिए दुग्ध बहुत आवश्यक है क्योंकि वह उसकी व गर्भ में पल रहे शिशु की जरूरत को पूरी करता है। नेहा ने नारा दिया कि
हमें दूध,मक्खन खाना है ।
भारत को स्वस्थ बनाना है। कार्यक्रम मर सौरभ, अंशी, सना अंसारी, अनिमेष शर्मा, अनिरुद्ध शर्मा, असीर अली आदि ने भी प्रस्तुतियां दीं। एकेडमिक एसोसिएशन अमित शर्मा, नीरज अरोरा ने भी मार्गदर्शन किया दिया। समन्वयक लक्ष्मीकांत शर्मा ने बताया कि किशोर व बाल पीढ़ी भविष्य है । इसे अद्यतन रखना जरूरी है, इस दिशा में क्लब के प्रयासों को गति मिल रही है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!