कामरेड भरत शर्मा के निधन पर शोक सभा कर दी गई श्रद्धांजलि

घनश्याम पाण्डेय/विनीत शर्मा(संवाददाता)

पटवध। हिन्डालको प्रगतिशील मजदूर सभा (एटक) – रेनुकूट व भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के लिए सन् 1972-73 से लगातार सक्रिय भूमिका निभाने वाले कामरेड भरत शर्मा के निधन पर भाकपा कार्यकर्ताओं ने पटवध स्थित पार्टी कार्यालय पर शोक सभा किया। जहां पार्टी और यूनियन के उपस्थित नेताओं ने दो मिनट का मौन धारण कर कामरेड भरत शर्मा को श्रद्धांजलि दी और गहरा शोक व्यक्त करते हुए कहा कि कामरेड भरत शर्मा के निधन पर पार्टी और संगठन की अपूर्णीय क्षति हुई है और पार्टी ने रेनुकूट परिक्षेत्र से एक मजबूत स्तंभ को खो दिया, जिसकी भरपाई मुश्किल है। इस दौरान पार्टी के नेताओं ने बताया कि कामरेड भरत शर्मा पिछले दिनों से ही मधुमेह और ब्लड प्रेशर जैसी बिमारी से अस्वस्थ चल रहे थे और हिंडाल्को अस्पताल के चिकित्सकों की देखरेख में उनका इलाज चल रहा था शनिवार की सुबह दस बजे के आसपास उनके निधन की खबर मिली और पार्टी के लोग मौके पर पहुंच कर उनके परिजनों के साथ पिपरी शमशान घाट पर उनके अंतिम संस्कार में शामिल रहे । कामरेड के निधन से जनपद का मजदूर तबका भी शोकाकुल हुआ है, हिंडाल्को के मजदूरों के हक़ की हर लड़ाई में उनके भागीदारी को भुलाया नहीं जा सकता, पार्टी और यूनियन उनके निधन पर गहरा दुःख व्यक्त किया ।
इस मौके पर पार्टी के जिला सचिव कामरेड आर के शर्मा, एटक के प्रांतीय नेता कामरेड अजय सिंह, राजेंद्र प्रसाद, कन्हैया लाल,एस एस मिश्रा, महिला फेडरेशन की नेता लता सिंह, कामरेड लालता प्रसाद तिवारी, कामरेड अमरनाथ सूर्य, कामरेड प्रेमचंद गुप्ता, एडवोकेट अशोक कुमार कनौजिया व नौजवान सभा के नेता दिनेश्वर वर्मा आदि मौजूद रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!