बाल संरक्षण अधिकारी ने पुलिस के सहयोग से बंधक बालिका को कराया मुक्त

पी0 के0 विश्वकर्मा (संवाददाता)

सामाजिक कार्यकर्ता ने दिया था सुचना

कोन । स्थानीय थाना क्षेत्र के चौकी बागेसोती के टोला परसाजरी में एक 16 वर्षीय बालिका को उसी गांव के एक युवक द्वारा बंधक बनाने का मामला संज्ञान में आने पर जिला प्रोबेशन अधिकारी डॉ0 अमरेंद्र कुमार पौत्स्यायन ने निर्देशन में जिला बाल संरक्षण अधिकारी ने कोन पुलिस के सहयोग से बालिका को मुक्त करा लिया।

जानकारी के अनुसार आज दोपहर में एक सामाजिक कार्यकर्ता ने घटना की सूचना जिला प्रोबेशन अधिकारी को दी। जिस पर तत्काल कार्यवाही करते हुए जिला प्रोबेशन अधिकारी ने जिला बाल संरक्षण अधिकारी गायत्री दुबे, सामाजिक कार्यकत्री रोमी पाठक, ओआरडब्ल्यू शेषमणि दुबे और विपिन कुमार की एक टीम बनाकर कोन पुलिस के सहयोग से लड़की को बंधन मुक्त कराने का निर्देश दिया। टीम ने कोन थाना प्रभारी के सहयोग से बंधक लडकी को मुक्त कराते हुए थाने ले आये। जहां क्षेत्राधिकारी ओबरा भाष्कर वर्मा ने पुछताछ करते हुये बालिका को संरक्षण हेतु जिला बाल संरक्षण इकाई तथा बाल कल्याण समिति के सहयोग से आश्रय प्रदान किया गया तथा उसकी समुचित देखरेख की व्यवस्था की जा रही है।

इस संबंध में प्रभारी निरीक्षक कोन विनोद कुमार ने बताया कि “लडकी की बंधक बनाये जाने की कोई सुचना थाने मे नहीं थी। आज टीम द्वारा जानकारी दिया गया तो पता चला की आपसी प्रेम संबंध में लडकी उसी गांव के लडके के यहां रह रही है परन्तु आज उसे टीम के साथ मुक्त कराया लिया गया है।”



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!