कोरोना से जंग: अब रोस्टर के अनुसार होगी गाँवों की सफाई व सेनेटाइजेशन

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

ग्राम पंचायतों में भेजी गई 7 टन ब्लीचिंग पाउडर

सोनभद्र । ग्रामीण क्षेत्रों में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए पंचायतीराज विभाग ने निगरानी समिति के साथ मिलकर जनपद के समस्त 629 गांवों की सफाई एवं सेनेटाइजेशन का रोस्टर तैयार किया है। रोस्टर के अनुसार सभी सचिव अपने एक-एक ग्राम पंचायत में सप्ताह में एक दिन सफाई अभियान एवं सेनेटाइजेशन कराएंगे।

इस संबंध में जिला पंचायतराज अधिकारी विशाल सिंह ने पत्र जारी कर सभी सहायक विकास अधिकारी (पंचायत) एवं सचिवों को निर्देशित किया है कि रोस्टर के अनुसार सफाई एवं अगले दिन उस गांव में सैनिटाइजेशन का कार्य सुनिश्चित कराया जाए तथा एडीओ पंचायत प्रतिदिन 5-5 ग्राम पंचायत का निरीक्षण कर निरीक्षण आख्या प्रस्तुत करेंगे।

डीपीआरओ ने चेतावनी देते हुए कहा कि औचक निरीक्षण के दौरान यदि किसी भी ग्राम पंचायत में रोस्टर के अनुसार कार्य होता हुआ नहीं पाया गया या कार्य में लापरवाही पाई जाती है तो संबंधित सचिव एवं एडीओ पंचायत के खिलाफ जिम्मेदार तय करते हुए कार्यवाही की जाएगी। जिला पंचायतराज अधिकारी ने बताया कि गांव में संक्रमण रोकने के लिए निगरानी समिति, सफाई, सैनिटाइजेशन आवश्यक है। जिसके लिए 7 टन ब्लीचिंग पाउडर ग्राम पंचायतों में वितरित करा दिया गया है एवं निर्देशित किया गया है कि ग्राम पंचायतों में बड़ी वाली मशीनों से सैनिटाइजेशन का कार्य कराया जाए। जिन ग्राम पंचायतों से सफाई एवं सैनिटाइजेशन की शिकायत प्राप्त होती है तो उस को गंभीरता से लिया जाएगा। सफाई एवं सैनिटाइजेशन का रोस्टर कोविड कंट्रोल रूम को भी प्रेषित किया गया है जिसकी निगरानी वहां से भी की जा रही है।

इसी क्रम में आज डीपीआरओ ने ग्राम पंचायत बहुआर में सैनिटाइजेशन का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान रोस्टर से कार्य नहीं पाए जाने पर संबंधित सचिव और सहायक विकास अधिकारी (पंचायत) रॉबर्ट्सगंज को सख्त हिदायत देते हुए रोस्टर के अनुसार ही कार्य संपादित कराने का निर्देश दिया।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!