लापरवाही: जीवित महिला को मृत बताकर रोकी पेंशन

संजय केसरी (संवाददाता)

डाला । विकास खंड चोपन अंतर्गत ग्राम पंचायत कोटा के टोला धवाईडण्डी निवासी एक वृद्ध महिला को जिंदा होते हुए भी समाज कल्याण विभाग द्वारा मृतक घोसित कर पेंशन रोक देने का मामला प्रकाश में आया है। जिंदा वृद्ध महिला को बैंक भी मृतक मानते हुए पैसा देने से इनकार कर दिया। उक्त वृद्ध महिला बैंक का चक्कर काट-काट थक चुकी हैं।

जानकारी के अनुसार ग्राम पंचायत कोटा के टोला धवइडण्डी निवासी गंगा देवी (65वर्ष) पत्नी त्रिवेणी के जिंदा होने के बावजूद भी समाज कल्याण विभाग द्वारा मृतक घोसित कर बृद्धा पेंशन रोक दिया गया। गंगा देवी जब डाला स्थित पंजाब नेशनल बैंक में 27 नवंबर 2020 को पैसा निकालने के फार्म भरी तो बैंक कर्मी ने बताया कि आपका पैसा निकाला नही जा सकता। अनपढ़ वृद्ध महिला कुछ और न सोचते हुए अपने घर लौट आयी। दुबारा 8 दिसम्बर 2020, तीसरे बार 28 दिसम्बर 2020 व चौथे बार 17 मार्च 2021 को जब बैंक पहुच के विड्रॉल भरी तो बैंक द्वारा बताया गया कि आपको समाज कल्याण विभाग द्वारा मृतक घोसित कर दिया गया है जिसकी वजह से भुगतान नही किया जा सकता। जबकि गंगा देवी के खाते में 14994.80 मात्र है।

इस सम्बंध में पंजाब नेशनल बैंक के मैनेजर ने बताया कि 26 अगस्त 2020 को समाज कल्याण बिभाग द्वारा हमारे बैंक को लेटर प्राप्त हुआ की वृद्धा पेंशनर गंगा देवी मृतक हो चुकी है, इनका भुगतान रोक दीया जाय। वहीं समाज कल्याण विभाग द्वारा प्रार्थी को एक माह पूर्व मृतक घोषित किया जाता है व 17 सितंबर 2020 को गंगा देवी के खाते में 14242.36 रुपया ट्रान्सफर भी कर दिया जाता है। इस बावत गंगा देवी द्वारा तहसील से शपथ पत्र बनवा कर भी बैंक को जीवित प्रमाण के लिए दिया जाता है फिर भी कोई सुनवाई नही होती है।

इस सम्बंध में स्वमं गंगा देवी ने बताया कि पेंशन निकालते समय कुछ दलाल महिलाएं पैसा मांगती व छीन लेती है। मेरे द्वारा न देने पर ही शिकायत की गई जिसने मेरा पेंशन बन्द करा दिया गया।

समाज कल्याण अधिकारी रामशंकर यादव ने बताया कि “विकास खण्ड चोपन द्वारा मेरे यहाँ मृतक होने का प्रमाण भेजा गया है, जिससे पेंशन पर रोक लगाया गया है। जिंदा होने का प्रमाण मिलते ही चालू करा दिया जाएगा।”

विकास खंड चोपन के एडीओ (आईएसबी) राजेश कुमार ने बताया कि “यह कार्यवाही ग्राम पंचायत विकास अधिकारी के रिपोर्ट पर की गई होगी। उनके द्वारा रिपोर्ट लगने के बाद मृतक माना गया होगा।”



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!