ऐश फिलिग डैम बनाने मे लोकल बोल्डर व पत्थल का हो रहा प्रयोग, वन विभाग मौन

राजेश कुमार (संवाददाता)

-जगह जगह हो रहा खनन,प्रतिदिन दर्जनो ट्राली अवैध बोल्डर खपाया जा रहा

बभनी। विकास खण्ड बभनी के बरवाटोला (भवर )मे ऐश फिलिग डैम बनाया जा रहा है।इस डैम मे प्रतिदिन सैकड़ो ट्राली बोल्डर का प्रयोग जंगलो पहाड़ो से किया जा रहा है।विभाग के लोगों की चुप्पी चर्चा का विषय बना हुआ है।इस कार्य में पुलिस व वन विभाग की भूमिका सन्दिग्ध है।

बरवाटोला गाव में ऐश फिलिग डैम बनाया जा रहा है।इस डैम के बनाने मे पत्थल की दिवाल खड़ी करनी है।जिसमे एनटीपीसी का राख फिलिग किया जाएगा इसके लिए कार्यदायी संस्था को टेण्डर है।लेकिन वन विभाग की सह पर खनन माफिया नदी पहाडो़ से मनमानी खनन कर रहे है।इस डैम मे आस पास के जंगलो से लोकल बोल्डर पत्थल का धडल्ले से प्रयोग किया जा रहा।नाम न छापने की शर्त पर ग्रामीणों ने बताया काम भी मानक के अनुसार प्रयोग नही किया जा रहा है।ठेकेदार की मनमानी के कारण काम की गुणवत्ता भी प्रभावित हो रहा है।ग्रामीणों की माने तो वन विभाग व पुलिस की भूमिका भी खनन को लेकर सन्दिग्ध है।इस कार्य मे दर्जनो ट्रेक्टर क्षेत्र मे जगह जगह से बोल्डर व पत्थल की ढुलान कर रहे है।

इस सम्बंध में अवध नारायण मिश्रा वन क्षेत्राधिकारी ने कहाकि मामले की जानकारी नही है तत्काल इसकी जांच कराता हुआ और अगर जंगलो से अवैध खनन किया जा रहा तो कार्यवाही भी होगा।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!