ऐसे तोड़ेगा सिस्टम कोरोना की चेन, मौतें दो सौ पार… फिर भी बाजार गुलजार

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । जिस शहर में कोरोना से दो सौ से भी ज्यादा मौत हो चुकी हैं, वहां कर्फ्यू लगा होने के बावजूद बाजारों में जबर्दस्त भीड़ उमड़ रही है। पुलिस-प्रशासन की ढिलाई से कोरोना का खौफ जैसे उड़नछू हो गया है। काफी हैरतअंगेज यह भी है कि जिन इलाकों में कई दिनों से लगातार कोविड गाइड लाइन की धज्जियां उड़ रही हैं, वहां न पुलिस दिख रही है न अफसरों के दौरे हो रहे हैं।

शादी विवह का सीजन चल रहा है, ईद आने वाली है लिहाजा पुलिस-प्रशासन की ढील मिलते ही शहर के कई बाजारों में बेतहाशा भीड़ उमड़ पड़ी है। एक बार फिर शहर के सभी बाजारों के यहीं हाल है लेकिन सबसे ज्यादा बुरा हाल नगर के मेन मार्केट, रेलवे क्रॉसिंग तथा पुराने सब्जी मंडी स्थित बाजार में हैं जहां इस कदर भीड़ जुट रही है कि बगैर धक्कामुक्की किए निकलना तक मुश्किल है। इस भीड़ में तमाम चेहरों पर मास्क तक नजर नहीं आता। पास ही में शीतला मंदिर चौक पर पुलिस की पिकेट लगी है और 5-6 सिपाही भी बैठे रहते हैं लेकिन फिर भी वह इस पर चुप्पी साधे रहते हैं। जबकि काफी दिनों से पुलिस की कदमताल न होने से लोगों की मनमानी भी बढ़ती जा रही है। वहीं स्थानीय दुकानदार भी कोरोना के भय को दरकिनार कर अपनी दुकानों का शटर गिरा कर उसके सामने खड़े रहते हैं और ग्राहकों को धीरे से अपनी दुकानों में पहुँचा देते हैं और पुनः शटर गिरा देते हैं।

फ़ाइल फोटो

पूरे मामले पर जब सीओ सिटी राजकुमार तिवारी से बात की गई तो उन्होंने कहा कि “इस प्रकार की लापरवाही कतई बर्दास्त नहीं कि जाएगी और किसी भी कीमत पर भीड़ एकत्रित नहीं होने दिया जाएगा। जो भी व्यापारी आंशिक लॉकडाउन का उल्लंघन करते हुए पाया जाएगा उसके खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी।”

बाजार में कई दिनों से भीड़ उमड़ रही है लिहाजा यह भी नहीं माना जा सकता कि पुलिस और उच्चाधिकारियों को इसकी जानकारी नहीं है। हैरत की बात यह भी है कि सुनसान सड़कों पर इक्का-दुक्का तादाद में निकलने वालों के तो चालान काटे जा रहे हैं लेकिन बाजारों की भीड़ से हर कोई बेखबर बना हुआ है।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
Back to top button