मायूसी: एक बार फिर अक्षय तृतीया पर लगा कोरोना संक्रमण का ग्रहण

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । धनतेरस की तरह ही अक्षय तृतीया का भी सराफा कारोबारियों को इंतजार रहता है। कोरोना ने पिछले साल की तरह इस बार भी अक्षय तृतीया पर सर्राफा कारोबार पर ग्रहण लगा दिया है। अक्षय तृतीय का पर्व 14 मई को है। कोरोना कर्फ्यू के कारण 17 मई तक दुकानें बंद रहेंगी। बीते साल भी लॉकडाउन के चलते अक्षय तृतीया पर सर्राफा बाजार बंद रहा था।

बीते एक दशकों के दौरान अक्षय तृतीया पर सोने-चांदी की खरीद का चलन बढ़ा है। इसके चलते सर्राफा कारोबारी भी धनतेरस की तर्ज पर तृतीया की तैयारी करते थे। बीते साल लॉकडाउन के चलते ज्यादातर सर्राफा ने दुकानों से जेवर निकालकर घरों में रख लिए थे। घर से ही ग्राहकों को जेवरों की फोटो व्हाट्सएप पर भेजकर बिक्री कर रहे थे।

इस बार व्यापारियों को यह भी करने का मौका नहीं मिला। पहले तीन मई तक कर्फ्यू लगा, जो अब लगातार बढ़ता जा रहा है। फिलहाल 17 मई सुबह सात बजे तक कर्फ्यू है।

नगर के सर्राफा कारोबारियों आयुष केशरी, दीपक सोनी, सरफराज आदि ने बताया कि “20 अप्रैल के आसपास से कोरोना संक्रमण के कारण स्थितियां बिगड़ने पर व्यापारियों ने अक्षय तृतीया की तैयारियां धीमी कर दी थीं। पिछले साल लोगों में कोरोना के दौरान भी जेवर खरीदने की ललक थी, लेकिन इस बार ऐसा नजर नहीं आ रहा है। बड़ी तादाद में लोगों के बीमार होने और अपनों के निधन के कारण ऐसा हो सकता है।”



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!