गोष्ठी में भूले बिसरे बच्चों के पुनर्वास पर की चर्चा

मनोहर कुमार (संवाददाता)

डीडीयू नगर। स्थानीय रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म संख्या तीन पर स्थित पोस्ट पर बुधवार को आरपीएफ और रेलवे चाइल्ड लाइन के बीच भूले भटके बच्चों के सुरक्षित भविष्य के लिए गोष्ठी का आयोजन किया गया।जिसमें चर्चा किया गया कि कोरोना महामारी के कारण किसी बच्चे के माता पिता जिंदा नहीं है तो उन बच्चों को किस तरह से पूर्णवास कराया जाए ।इस कार्य के लिए कोई भी व्यक्ति रेलवे चाइल्डलाइन का टोल फ्री नंबर 1098 का उपयोग कर सूचना दे सकते हैं।चाइल्डलाइन के सदस्यों ने अपनी समस्या के बारे में बताया कि चंदौली में बच्चों के लिए कोई भी शेल्टर न होने कारण काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है जिसके कारण भूले भटके बच्चो को उनके माता पिता को सही सलामत सुपुर्द करने के लिए काफी मेहनत करनी पड़ता है।साथ ही उन्होंने रेलवे के तरफ से मास्क व वैक्सीन लगाने का आग्रह किया गया। जिसके लिए रेलवे सुरक्षा बल ने हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया गया। इस दौरान निरीक्षक प्रभारी संजीव कुमार, उप निरीक्षक अश्वनी कुमार,मेरी सहेली टीम के महिला आरक्षी सावत्री फोगड़िया , ए बी पार्वती एवम् रेलवे चाइल्डलाइन से कोऑर्डिनेटर सुंदर सिंह,सदस्य सीमा यादव,चंदा गुप्ता, चांदनी विश्वकर्मा ,ब्रजेश मिश्रा शामिल रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!