धुलाई कराते समय बल्कर ड्राइवर आया करन्ट की चपेट में, इलाज के दौरान मौत

धर्मेन्द्र गुप्ता(संवाददाता)

विंढमगंज। स्थानीय थाना क्षेत्र से होकर गुजरने वाली राँची-रीवा राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित सलैयाडीह ग्राम पंचायत में आज सुबह लगभग 8:00 बजे गाड़ी धुलाई सेंटर पर गाड़ी धुलाई कराते समय बल्कर ड्राइवर की मौत 11000 करंट के तार में सटने से हो गई। थाना प्रभारी विनोद कुमार सोनकर ने बताया कि घटना की जानकारी मिली है। आनन-फानन में स्थानीय लोग बल्कर ड्राइवर रवीश कुमार उम्र लगभग 45 वर्ष पुत्र नारायण पासवान को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र दुद्धी ले गए जहां डॉक्टरों ने देखते ही मृत घोषित कर दिए है।

गौरतलब है कि सलैयाडीह ग्राम पंचायत में राष्ट्रीय राजमार्ग से सटे एक स्थानीय लोग के द्वारा गाड़ी धुलाई सेंटर खोल कर गाड़ियों की धुलाई का काम किया करता था। मौके पर मौजूद ग्रामीण ने बताया कि आज सुबह लगभग 8:00 बजे उक्त बल्कर गाड़ी का ड्राइवर धुलाई सेंटर पर गाड़ी को खड़ा करके खुद गाड़ी के उपर चढकर गाड़ी धुलवा ही रहा था कि धुलाई सेंटर के ऊपर से गुजरे हुए 11000 वोल्टेज के तार की चपेट में वल्गर ड्राइवर रवीश कुमार पासवान उम्र लगभग 45 वर्ष पुत्र नारायण पासवान निवासी सलैयाडीह ग्राम पंचायत के गर्दन के पास तार सट गया व धू-धू कर जलने लगा तथा गरदन के पास से खुन की बौछार होने लगा। आनन-फानन में सेल फोन के माध्यम से केवल सबस्टेशन फोन करके बिजली आपूर्ति को बाधित करा कर ड्राइवर को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र विंढमगंज पर लाया गया। जहां डॉक्टर आर डी प्रजापति ने स्थिति गंभीर देख दुद्धी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को रेफर कर दिया। जहां स्थानीय ग्रामीणों ने प्राइवेट वाहन से उक्त ड्राइवर को लेकर दुद्धी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचा वहां मौजूद डॉक्टर ने देखते ही मृत घोषित कर दिया जिसके कारण मृतक की पत्नी व दो लड़के का रो रो कर बुरा हाल है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!