परिवहन व लेबर आपूर्ति ठेकेदार पर नकेल कसने की जिलाधिकारी से की मांग

आनंद कुमार चौबे (संवाददात)

ठेकेदारों की लापरवाही के कारण केन्द्रों पर गेहूं खरीद प्रभावित: गिरीश पांडेय

सोनभद्र । पूर्वांचल नव निर्माण किसान मंच के नेता गिरीश पाण्डेय ने आज खाद्य विभाग की विपणन शाखा सलैयां एट उंचडीह मिनी सचिवालय क्रय केंद्र तथा रावर्टसगंज मंडी समिति परिसर मे स्थापित गेहूं खरीद केन्द्रों का दौरा करके किसानों का हाल जाना।

गिरीश पाण्डेय ने बताया कि सलैयां एवं उंचडीह मिनी सचिवालय क्रय केंद्र पर खड़े कैथी गांव के किसान अरविंद को गेंहू बेचने के लिए 15 अप्रैल का टोकन मिला था। इसी तरह रजपुरवा गांव की महिला किसान का टोकन 22 अप्रैल के लिए पोर्टल से जारी किया गया था। बावजूद इसके अभी तक इनका गेहूं नहीं खरीदा जा सका।

इस बावत सलैयां एवं उंचडीह मिनी सचिवालय क्रय केंद्र के विपणन अधिकारी से कारण पूछने पर बताया गया कि भंडारण क्षमता कम है, समय से परिवहन ठेकेदार द्वारा उठान ना कराये जाने से खरीद प्रभावित चल रही है। वहीं केन्द्र प्रभारी ने तौल के लिए लेबर की समस्या भी बताई कहा कि आवश्यकता के अनुसार नियुक्त लेबर ठेकेदार पल्लेदार नहीं दे पा रहा है।

मंडी समिति परिसर का हाल बताते हुए गिरीश पाण्डेय ने बताया कि लसडी गांव के किसान महेन्द्र पटेल 29 अप्रैल से विपणन विभाग के केन्द्र पर मंडी परिसर में खड़े हैं, लसडी गांव के अनिल 25 अप्रैल से तथा शक्ति कुमार 24 अप्रैल से कर्मचारी कल्याण निगम के केन्द्र पर अपनी बारी के इन्तजार में खड़े हैं।

गिरीश पाण्डेय ने कहा तीन दिन में खरीद करके भुगतान देने का वादा मुख्यमंत्री ने किया है, जिसको सोनभद्र मे जिम्मेदार अधिकारी तथा परिवहन तथा लेबर ठेकेदार मिलकर पलीता लगा कर सरकार की छवि किसानों में खराब करने के साथ-साथ किसानों को विवश भी कर रहे हैं कि इन्तजार करके थक-हार कर किसान विवश होकर औने-पौने दाम पर गेहूं भी बेचने को मजबूर हो। जैसा कि धान खरीद में किसानों के साथ किया गया था।

गिरीश पाण्डेय ने जिलाधिकारी से केन्द्रों पर पर्याप्त लेबर आपूर्ति तथा गेहूं परिवहन ना कर पाने वाले ठेकेदारों पर दंडात्मक कार्रवाई सुनिश्चित करने के साथ साथ टोकन पर निर्धारित समय के अनुसार शतप्रतिशत किसानों से गेहूं खरीद सुनिश्चित कराने की मांग की।

मामले को गंभीरतापूर्वक लेते हुए पूर्वांचल नव निर्माण किसान मंच के संयोजक श्रीकांत त्रिपाठी तथा संरक्षक वरिष्ठ समाज सेवी राम सकल चौबे ने आंदोलन की कड़ी चेतावनी देते हुए कहा यदि किसानों को परेशान करने की कोशिश की गई तो लाॅकडाउन की अनदेखी कर किसान जिला प्रशासन के खिलाफ कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन करेंगे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!