बेड्स उपलब्धता के विषय में आम जनमानस को जानकारी हेतु समिति का किया गया गठन

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

वैश्विक महामारी कोविङ -19 के दृष्टिगत जनपद के जिला चिकित्सालय की एम सी एच विंग में संचालित 1-2 चिकित्सालय ( 100 बेड्स ) तथा जनपद में कोविड डेडीकेटेड चिकित्सालयों में

रामअवध हॉस्पिटल पीलीभीत ,

पी0 डी0 सिंह हॉस्पिटल पीलीभीत .

भारत सेठी हॉस्पिटल , पीलीभीत तथा
एस0 एस0 हॉस्पिटल पीलीभीत

में आरक्षित बेडस की उपलब्धता के विषय में आम जनसामान्य को सुगमता से जानकारी उपलब्ध कराये जाने के दृष्टिगत निम्नवत समिति का गठन किया गया

अरूण कुमार सिंह द्वितीय नगर मजिस्ट्रेट , पीलीभीत। 9454415861

बबिता रानी औषधि निरीक्षक, पीलीभीत । 8874864022

सी 0 एम 0 चतुर्वेदी अपर मुख्य चिकित्साधिकारी , पीलीभीत । 9412287651

उपरोक्त वर्णित समिति जनपद में ऑक्सीजन की उपलब्धता भी सुनिश्चित कराते हुये जनसामान्य द्वारा ऑक्सीजन की उपलब्धता के विषय में जानकारी किये जाने पर जनसामान्य को वस्तुस्थिति से अवगत कराया जायेगा । साथ ही समिति द्वारा यह भी सुनिश्चित किया जायेगा कि उपरोक्त वर्णित चिकित्सालयों में भर्ती मरीजों / उनके तीमारदारों अथवा आम जनसामान्य द्वारा ऑक्सीजन की मांग किये जाने पर सम्बन्धित को नियमानुसार ऑक्सीजन की उपलब्धता सुनिश्चित हो सके । उपरोक्त समिति के उपरोक्त दोनों कार्यों हेतु ICCC ( इण्टीग्रेटेड कोविड कमाण्ड सेन्टर ) में दूरभाष संख्या- 05882-255016 एवं 05882-255017 आरक्षित किये जाते हैं । जिला विकास अधिकारी/नोडल अधिकारी, Iccc ( इण्टीग्रेटेड कोविड कमाण्ड सेन्टर ) द्वारा यह सुनिश्चित किया जायेगा कि उक्त नम्बरों हेतु सम्बन्धित कर्मचारी/ऑपरेटर 24×7 उपलब्ध रहें तथा जनसामान्य द्वारा उपरोक्त दूरभाष नम्बरों पर उक्त बिन्दुओं से सम्बन्धित जानकारी किये जाने पर उसका अभिलेखीकरण करते हुये जनसामान्य को समिति से समन्वय करते हुये जानकारी देगें तथा समिति के सदस्यों को अवगत करायेगें । उक्त कार्य में किसी भी प्रकार की शिथिलता क्षम्य नहीं होगी । उपरोक्त नामित किसी अधिकारी के स्थानान्तरण, अवकाश अथवा कोविड -19 से संक्रमित हो जाने की दशा में उनके प्रतिस्थानी / लिंक अधिकारी द्वारा उक्त कार्यों का निर्वहन किया जायेगा । यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू किया गया।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!