कोरोना का कहर: 2 महिलाओं समेत 7 मरीजों की मौत, 298 हुए स्वस्थ

आनंद कुमार चौबे (संवाददात)

सोनभद्र । लगातार बढ़ रहा कोरोना संक्रमण का ग्राफ जिले में कम नहीं हो रहा है। बीते 24 घंटे में जहाँ जिले के विभिन्न इलाकों में कोरोना जांच कराने वाले 305 नए लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। वहीं दो महिलाओं समेत 7 मरीजों की संक्रमण की वजह से मौत हो गयी। नए संक्रमितों में ज्यादातर को होम आइसोलेट कर दिया गया है।

जिले में कोरोना वायरस की दूसरी लहर लगातार जानलेवा होती जा रही है। खतरनाक वायरस से लड़ाई में जरा सी असावधानी बरत रहे लोग संक्रमित हो रहे हैं। जिला चिकित्सालय परिसर स्थित एल-2 अस्पताल में रॉबर्ट्सगंज विकास खण्ड क्षेत्र के इमिरती कॉलोनी चौराहा निवासी 56 वर्षीय व्यक्ति, कम्हारी गाँव निवासी 42 वर्षीय युवक, छपका निवासी 40 वर्षीय युवक तथा चतरा निवासी 60 वर्षीय वृद्ध महिला की इलाज के दौरान मौत हो गई। जबकि रहमनपुर-नौगढ़ निवासी 65 वर्षीय वृद्ध की होम आइसोलेशन में मौत हो गयी। वहीं डोडहर-बीजपुर निवासी 69 वर्षीय वृद्ध की वाराणसी स्थित के निजी अस्पताल तथा वी0वी0 कॉलोनी-शक्तिनगर निवासी 38 वर्षीय महिला की रीवां (एमपी) स्थित एसजी मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान मौत हो गयी।

मौत का आंकड़ा बढ़ने के साथ ही नए संक्रमितों की संख्या में भी लगातार इजाफा हो रहा है। इसी के साथ मृतकों के आँकड़ा 184 पर पहुँच गया है।

सरकारी आँकडों पर गौर करें तो बीते एक सप्ताह में जहाँ 2343 नए मामले सामने आए हैं तो वहीं 41 मरीजों ने कोरोना संक्रमण के कारण जान गवाँ दी है। ऐसे में एक राहत देने वाली खबर है कि इस अवधि में 2699 मरीजों ने कोरोना को मात दी है।

कोरोना जांच कराने वाले 305 नए लोगों की रिपोर्ट पाजिटिव आई है। नए संक्रमितों में अधिकांश को होम आइसोलेशन में डाक्टरों की निगरानी में रखा गया है। वहीं 298 संक्रमित ठीक हुए हैं। जिसके बाद अब जिले में कोरोना को मात देने वालों का आँकड़ा बढ़कर 10719 पर पहुँच गया है। जबकि एक्टिव मामले अभी भी तीन हजार के अधिक हैं।

हालांकि योगी सरकार के निर्देशानुसार जिले के समस्त गाँवों में कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने और ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड संक्रमण को देखते हुए आज से पोलियो अभियान की तर्ज पर विशेष अभियान शुरू हो गया है। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग की टीमें अब पल्स पोलियो अभियान की तर्ज पर घर-घर जाकर एक बार फिर लोगों को कोरोना के प्रति जागरूक करते हुए लक्षण के बारे में बताएंगी। सर्दी, खांसी, जुकाम, बुखार के लक्षण मिलने पर मरीजों को मेडिकल किट उपलब्ध कराएंगी। यह अभियान पांच दिन तक चलेगा।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!