बीजेपी की शिकायत पर चुनाव आयोग ने ममता बनर्जी को भेजा नोटिस

चुनाव आयोग ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की नेता ममता बनर्जी को कथित तौर पर सांप्रदायिक आधार पर प्रचार करने को लेकर बुधवार को नोटिस जारी किया है। चुनाव आयोग ने हुगली में एक चुनावी रैली के दौरान कथित तौर पर सांप्रदायिक आधार पर मतदाताओं से अपील करने के लिए ममता बनर्जी को ये नोटिस भेजा है । चुनाव आयोग के इस नोटिस में ममता बनर्जी को 48 घंटों के भीतर जवाब देने के लिए कहा है ।

नोटिस में कहा गया कि चुनाव आयोग को भारतीय जनता पार्टी के प्रतिनिधिमंडल से शिकायत मिली है, जिसमें आरोप लगाया है कि 3 अप्रैल को ममता बनर्जी ने हुगली में ताराकेश्वर की चुनाव रैली के दौरान मुस्लिम मतदाताओं से कहा कि उनका वोट अलग-अलग दलों में न बंटने दें। नोटिस के मुताबिक चुनाव आयोग ने पाया है कि उनका भाषण जन प्रतिनिधित्व कानून और आचार संहिता के प्रावधानों का उल्लंघन करता है।

ममता बनर्जी को भेजे गए इस नोटिस को लेकर तृणमूल कांग्रेस ने कड़ी आपत्ति जताई है. पार्टी की वरिष्ठ नेता महुआ मोइत्रा ने चुनाव आयोग की कार्यवाही पर पलटवार करते हुए कहा कि चुनाव आयोग ने BJP की शिकायत पर ममता बनर्जी को नोटिस भेज दिया है, लेकिन TMC की शिकायतों का क्या हुआ । TMC नेता ने ट्वीट कर BJP उम्मीदवार द्वारा कथित तौर पर नकदी बांटने की घटनाओं पर की गई शिकायतों का जिक्र किया ।

चुनाव आयोग ने इन अधिकारियों को किया ट्रांसफर
पश्चिम बंगाल में विधानसभा के चुनाव जारी हैं । तीन चरणों का मतदान हो चुका है और पांच चरणों की वोटिंग अभी भी जारी है । ऐसे में राज्य में चुनाव आचार संहिता लागू है इसी बीच TMC और BJP, दोनों पार्टियां लगातार एक दूसरे के नेताओं को लेकर चुनाव आयोग में शिकायत कर रहे हैं । वहीं चुनाव आयोग भी लगातार कदम उठा रहा है । इसी कड़ी में चुनाव आयोग ने दक्षिण दिनाजपुर, पूर्व बर्धमान और पश्चिम बर्धमान के डिस्ट्रिक्ट इलेक्शन ऑफिसर के ट्रांसफर किए हैं ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!