अल्ट्रासाउंड सेंटर पर कार्यवाही को लेकर एसीएमओ व सीएचसी अधीक्षक के बीच नोकझोंक, मामला पहुंचा थाने

गौरव पाण्डेय (संवाददाता)

फरीदपुर । नगर में चल रहे एक अल्ट्रासाउंड सेंटर की शिकायत पर जांच करने पहुंचे एसीएमओ व सीएचसी अधीक्षक के बीच इसकी सूचना न देने को लेकर सरेआम नोकझोंक हो गई । इस दौरान एक संगठन के कुछ लोग भी अल्ट्रासाउंड सेंटर पर पहुंच गए और कार्यवाही को लेकर आक्रोशित हो गए । वहां उनकी भी एसीएमओ से नोकझोंक हो गई । यहां तक कि मामला कोतवाली तक पहुंच गया।

जानकारी के मुताबिक फरीदपुर पहुंचे एसीएमओ जय प्रकाश मौर्या ने नगर में चल रहे एक अल्ट्रासाउंड सेंटर को चेक किया तो वहां इंटर पास व्यक्ति अल्ट्रासाउंड करते मिला । तभी एसीएमओ ने डॉक्टर के बारे में जानकारी की तो वह मौके पर मौजूद नहीं मिले ।जबकि उनके नाम से ही अल्ट्रासाउंड सेंटर चलता पाया गया । जिस पर कार्रवाई करते हुए एसीएमओ ने अल्ट्रासाउंड मशीन सील कर दी। एसीएमओ के आने की सूचना मिलते ही फरीदपुर सीएचसी अधीक्षक डॉक्टर वासित अली व एक संगठन के कुछ लोग भी मौके पर पहुंच गए । इन लोगों ने पहुंचते ही एसीएमओ द्वारा कार्रवाई करने का विरोध किया । वही सीएचसी अधीक्षक डॉ बासित अली ने कहा कि उन्हें बगैर सूचना दिए अल्ट्रासाउंड मशीन को सील कैसे कर दिया । इस पर एसीएमओ जय प्रकाश मौर्य ने कहा कि उनके पास लिखित आदेश है जांच करने का । अगर वह पूर्व में सूचना दे देते तो सूचना लीक हो जाती और अल्ट्रासाउंड सेंटर बंद हो जाते और जांच नहीं हो पाती । इसी बात पर एसीएमओ व सीएचसी अधीक्षक के बीच एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगने लगे । सरेआम दोनों के बीच बात इतनी बढ़ गई कि जमकर तू-तू मैं-मैं हो गई । इन दोनों लोगों के बीच विवाद का होता देख वहां पर मौजूद लोग भी हैरान थे। वही अल्ट्रासाउंड सेंटर पर कार्रवाई होने के विरोध में एक संगठन के कुछ कार्यकर्ता एसीएमओ से उलझ गए। उन्होंने भी एसीएमओ को खरी-खोटी सुना डाली। जिस पर एसीएमओ जयप्रकाश मौर्य घबरा गए और आपा बचाकर जाने लगे । तभी संगठन के कुछ कार्यकर्ता और सीएचसी अधीक्षक ने नगर में और भी फर्जी चल रहे अल्ट्रासाउंड सेंटरों पर कार्रवाई करने को कहा । तब एसीएमओ ने एक अन्य अल्ट्रासाउंड सेंटर को जाकर चेक किया। एसीएमओ के आने की सूचना पर उक्त अल्ट्रासाउंड सेंटर मालिक दुकान बंद कर फरार हो गया था । बाद में बंद अल्ट्रासाउंड सेंटर को एसीएमओ ने ताला लगाकर सील कर दिया। नगर में अल्ट्रासाउंड सेंटर पर कार्रवाई करने पहुंचे एसीएमओ डॉ जयप्रकाश मौर्य सीएचसी अधीक्षक के बीच कहासुनी व तू-तू मैं-मैं का विवाद थाने पहुंचा । एसीएमओ ने पुलिस को मौखिक आप बीती बताते हुए कहा कि सीएससी अधीक्षक व एक संगठन के कुछ कार्यकर्ताओं ने उन्हें धमकाया और नौकरी न करने देने की धमकी दी । उन्होंने कहा कि सीएचसी अधीक्षक डॉक्टर बासित अली ने यहां तक की धमकी दी थी वह स्वयं नौकरी से इस्तीफा दे देंगे और उन्हें भी नौकरी नहीं करने देंगे । वही सीएचसी अधीक्षक डॉ बासित अली ने मौखिक रूप से पुलिस को बताते हुए एसीएमओ डॉ जयप्रकाश मौर्या पर धमकाने का आरोप लगाते हुए कहा कि सीएचसी फरीदपुर पर उन्हें भी नौकरी नहीं करने देंगे । वही पुलिस ने इस मामले को विभागीय मामला बताया और बरेली सीएमओ ऑफिस जाकर सुलझाने की बात कही ।

बतादें कि विभागीय अधिकारियों की लापरवाही के चलते ही नगर में कई अल्ट्रासाउंड सेंटर फर्जी रूप से चल रहे हैं । जिन पर आज तक कभी भी कोई ठोस कार्रवाई नहीं हुई है।
वही फरीदपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के अधीक्षक डाक्टर बासित अली ने बताया कि एसीएमओ द्वारा अल्ट्रासाउंड सेंटर पर छापे मारे जाने की मेरे पास कोई सूचना नहीं थी ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!