वसंत पंचमी के शुभ अवसर पर विध्याचल मंदिर में उमड़ा आस्था का सैलाब

संजीव कुमार पांडेय (संवाददाता)

मीरजापुर । माघ शुक्ल के वसंत पंचमी पर लगभग दो लाख श्रद्धालुओं ने मां विध्यवासिनी का दर्शन-पूजन कर आशीष मांगा। माता के दर्शन-पूजन करने आए भक्तों के जयकारे से समूचा विध्यधाम गुंजायमान रहा। पुलिस-प्रशासन सुरक्षा के मद्देनजर मुस्तैद रहा। मंदिर की छत पर बच्चों का मुंडन संस्कार कराने वाले भक्तों का तांता लगा रहा। इस दौरान शहनाई व नगाड़े बजते रहे। गंगा घाटों पर भोर से ही स्नानार्थियों का रेला लगा रहा।
स्नान के बाद श्रद्धालुओं ने माला, फूल, नारियल, चुनरी आदि लेकर कतारबद्ध होकर दर्शन किया। इस शुभ घड़ी में लोगों ने यज्ञोपवित व मुंडन संस्कार कराए। कारिडोर निर्माण के चलते कोतवाली रोड से विध्यवासिनी मंदिर तथा मंदिर से दीवान घाट तक जाने वाले मार्ग पर बने गड्ढ़ों के कारण दर्शनार्थियों को परेशानी का सामना करना पडा। मां विध्यवासिनी का दर्शन करने के बाद भक्तों ने परिसर में विराजमान सभी देवी-देवताओं के दर्शन किए। इस अवसर पर लोगों ने त्रिकोण परिक्रमा कर मां काली, अष्टभुजा व मां तारा देवी का दर्शन-पूजन कर सुख-समृद्धि की कामना की।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!