संदिग्ध परिस्थिति में विवाहिता की मौत, हत्या-आत्महत्या केस में उलझी पुलिस, जांच शुरू

संतोष जायसवाल/राजकुमार गुप्ता (संवाददाता)

करमा/घोरावल । घोरावल तहसील के अंतर्गत करमा थाना क्षेत्र के मगरदहा गांव निवासी नवविवाहिता श्रेया 21 वर्ष की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। जली हुई स्थिति में उसे सोमवार की भोर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र घोरावल पहुंचाया गया जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।
मिर्जापुर जनपद के मड़िहान थाना अंतर्गत सुगापाख क्षेत्र के खन्तरा गांव निवासी भगवती कोल की पुत्री श्रेया (21) की शादी कमलेश पुत्र राजकुमार निवासी मगरदहा से बीते लॉक डाउन मई मे हुई थी। भगवती ने बताया कि उस समय बाइक की मांग थी। शादी के बाद उसके पुत्री श्रेया की विदाई हो गई थी। शादी के बाद तीन चार बार वह अपने मायके भी आई थी। भगवती के मुताबिक उसकी पुत्री श्रेया ने बाइक की मांग बताई जो ससुराल के लोगों द्वारा की जा रही थी। इस बात को लेकर ससुर सास देवर जेठ जेठानी द्वारा प्रताड़ित करने की बात उसने अपने मायके वालों से बताई थी।

मृतका के पिता द्वारा बताया गया कि उसका दामाद कमलेश काम के लिए रविवार को दिन के समय में इलाहाबाद के लिए निकला था। घटना सोमवार रात की बताई गई। भगवती ने बताया कि उसके परिवार के एक लड़की शांति की शादी श्रिया के पड़ोस में हुई है। घटना की जानकारी उसी नेेे 11 बजे रात को दी। जबकि श्रेया के ससुराल वालों ने कोई जानकारी नहीं दी।
मृतका की छोटी बहन शांति ने बताया कि घटना की जानकारी मिली जब वे लोग श्रिया के घर पहुंचे तो श्रिया जली हुई स्थिति में जमीन पर लेटी पड़ी हुई थी। घटना की सूचना 112 नम्बर डायल कर के दी गई। जब पुलिस पहुंची तो ससुराल पक्ष के सभी वहाँ से खिसक चुके थे। गंभीर रूप से जली हुई स्थिति में एम्बुलेंस की सहायता से उसे भोर में सरकारी अस्पताल घोरावल लाया गया। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अधीक्षक डॉ मुन्ना प्रसाद ने बताया कि घटना की सूचना पुलिस को दे दी गई है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!