बंदी की मौत के मामले की होगी मजिस्ट्रियल जांच

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । जिला मजिस्ट्रेट ने जिला कारागार में निरुद्ध बंदी छोटू उर्फ इब्राहिम पुत्र अली हुसैन (30वर्ष) निवासी ग्राम बनौरा-पन्नूगंज, हाल पता- डाला-चोपन की गत 11 फरवरी को हुई मृत्यु की मजिस्ट्रियल जांच केे आदेश दिए हैं। इसकी जाँच एसडीएम सदर सुशील कुमार यादव करेंगे और एक पखवाड़े के अंदर इसकी रिपोर्ट जिलाधिकारी को सौंपेंगे।

जिला कारागार अधीक्षक की आख्या के अनुसार “गत 11 फरवरी को सायंकाल कारागार लॉकिंग के दौरान बैरक को बन्द कराया जा रहा था। जिला कारागार में निरूद्ध विचाराधीन बन्दी द्वारा बैरक के पीछे पेड़ पर चढ़ कर आत्महत्या का असफल प्रयास किया गया। तत्काल उसे कारागार के बाहर सीढ़ी मंगाकर उतारा गया। चूंकि जिला कारागार चिकित्सक विहीन है, मौके पर उपस्थित फार्मासिस्ट योगेन्द्र कुमार भाष्कर ने आनन-फानन में आक्सीजन सिलेण्डर लगाकर उपचार हेतु लेकर स्वयं जिला संयुक्त चिकित्सालय, लोढ़ी गये, जहाँ पर आकस्मिक चिकित्सक द्वारा बन्दी का इलाज किया गया। इलाज के दौरान चिकित्सक द्वारा बन्दी को 11 फरवरी की शाम 21.14 बजे मृत घोषित कर दिया गया।

जिलाधिकारी अभिषेक सिंह ने बताया कि “जिला कारागार अधीक्षक की प्राप्त आख्या के आधार पर मृतक विचाराधीन बन्दी की मृत्यु जिला कारागार में आत्महत्या के निमित्त किये गये असफल प्रयास के उपरान्त संयुक्त जिला चिकित्सालय, लोढ़ी में चिकित्सा के दौरान हुई है फिर भी मृतक बन्दी के मृत्यु के कारणों की मजिस्ट्रियल जॉच कराया जाना अपेक्षित है। इस क्रम में उप जिलाधिकारी (मुख्यालय) को जॉच हेतु मजिस्ट्रेट नामित किया जाता है, जो मृत्यु के प्रत्येक पहलुओं की सघनता से जॉच करते हुए अपनी तथ्यात्मक एवं सुस्पष्ट मजिस्ट्रियल जॉच आख्या एक पक्ष में अनिवार्यतः उपलब्ध करायेंगें।”



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!