अप्रशिक्षित चालक व खटारा वाहन हर दिन लील रही जिंदगियां

घनश्याम पाण्डेय/विनीत शर्मा (संवाददाता)

चोपन। जिले में लगातार बढ़ रही वाहनों की संख्या के बीच अप्रशिक्षित चालकों की लापरवाही के कारण आयेदिन लोग सड़क दुर्घटना के शिकार होकर अपनी जान गंवा रहे है। चोपन से जुगैल ,भरहरी,बेलगड़ी, कुड़ारी,इत्यादि जगहों पर सवारी भर कर जाने वाले ऑटो चालकों में अधिकतर चालक अप्रशिक्षित है यही कारण है कि आयेदिन एक परिवार की खुशियां छिन रही हैं। अभी दो दिन पूर्व ही चतरवार निवासी अखिलेश देव पाण्डेय की ऑटो पलटने से मौके पर ही मौत हो गई थी ऐसे तमाम घटनाएं है जो पूर्व में घटित हो चुकी है देखा जाए तो सैकड़ों की संख्या में ऐसे वाहन भी सड़कों पर हैं, जो बिना किसी परमिट व रजिस्ट्रेशन के रफ्तार लगा रहे हैं। वाहनों की तेज रफ्तार और चालकों की लापरवाही के साथ साथ दुर्घटना के कारणों पर गौर करें तो सड़क पर अतिक्रमण और वाहनों का फिटनेस भी इसका सबसे बड़ा कारण है। जिसके कारण सड़क पर चलने वाले राहगीर से लेकर वाहन पर सवार यात्रियों की जिदगी असमय काल के गाल में समा जाती है। जिससे यह साबित हो रहा है की शहर की सड़कों पर कुछ गाड़ियां बगैर फिटनेस प्रमाण पत्र के दौड़ लगा रही हैं तो कुछ गाड़ी को पुरानी और जर्जर हालत में भी विभाग की ओर से प्रमाण पत्र दे दिया जाता है। दरअसल, सड़क पर चल रहे वाहनों को फिटनेस देने का काम परिवहन विभाग का है। विभाग के अफसर न तो सड़क पर दौड़ लगा रही गाड़ियों की नियमित रूप से जांच करते हैं और न ही जर्जर पुराने वाहनों को फिटनेस का सर्टिफिकेट देने में सख्ती बरतते हैं। दरअसल, यह सब पैसों का कमाल है। इसलिए विभाग आंख मूंदकर तमाशबीन बना रहता है। एक ओर सड़क दुर्घटनाएं बढ़ रही हैं तो दूसरी ओर विभाग के अफसर मूकदर्शक बने हुए हैं। गौरतलब हो कि चोपन जुगैल मार्ग पर सैकड़ों की संख्या में बिना रोक टोक के आटो संचालित हो रहे हैं चंद रुपयो की लालच में नियम कानून को ताक पर रखकर ठूस ठूस कर सवारी बैठाते हैं जबकि चोपन जुगैल मार्ग पर जानलेवा मोड़ है परंतु आटो चालक जल्दी के चक्कर में स्पीड पर भी कोई कंट्रोल नहीं रखते जिससे आयेदिन दुर्घटनायें हो रही है साथ ही बिना लाईसेंस के अप्रशिक्षित चालक इंसानी जिंदगियों से खिलवाड़ करने में कोई गुरेज नहीं कर रहे हैं वहीं संबंधित यह सब आंखे मुंदकर देख रहे हैं लोगों ने ऐसे वाहनों और चालकों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है ताकि असमय हो रही दुर्घटनाओं पर प्रभावी अंकुश लग सके।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!