निर्माण कार्यों को समयबद्व व गुणवत्ता परक ढ़ंग से करें पूर्ण- जिलाधिकारी

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

पीलीभीत । जिलाधिकारी पुलकित खरे की अध्यक्षता में रू0 50.00 लाख से अधिक लागत की भवन निर्माण परियोजनायें, बार्डर एरिया डवलपमेन्ट आदि के सम्बन्ध में समीक्षा बैठक गांधी सभागार, में सम्पन्न हुई। नवीन बस स्टेशन पूरनपुर के समस्त कार्य पूर्ण करने के उपरान्त हैण्डओवर से पूर्व जांच कमेटी द्वारा बताई गई कमियों को एक सप्ताह के अन्दर पूर्ण कर कमेटी द्वारा दोबारा जांच कराकर हैण्डओवर करने हेतु निर्देशित किया गया। जनपद में 06 निर्माणाधीन राजकीय विद्यालय के कार्यों की समीक्षा के दौरान दो विद्यालयों का कार्य पूर्ण हो गया है और शेष विद्यालयों को इस माह के अंत तक पूर्ण कर लिया जाएगा। इस दौरान जिलाधिकारी द्वारा पूर्व में खनंका के निर्माणाधीन विद्यालय के निरीक्षण के दौरान दिये गये निर्देशों के अनुपालन के सबंध में जानकारी लेते हुए सबंधित संस्था को विद्यालय के चारो ओर हटाये गये कब्जे पर बाउन्ड्रीबाल कराने के निर्देश दिये गये। इसके साथ ही साथ सीएनडीएस द्वारा निर्माणाधीन चूका स्पाॅट, यूपीसिडोको द्वारा राजकीय आश्रम पद्वति माधौटांडा, स्वास्थ्य केन्द्र दियोरिया कला ईंटगांव, पी0डब्लू0डी0 द्वारा निर्माणाधीन सेतु, जल निगम द्वारा पेयजल योजनाओं, यूपीपीसीएल द्वारा निर्माणाधीन स्वास्थ्य केन्द्र सुहास व कुर्रेया कलां सहित अन्य निर्माणाधीन कार्यों की समीक्षा करते हुये समस्त संस्थाओं को कड़े निर्देश देते हुये कहा कि कार्यों को निर्धारित समय में मानक के अनुरूप करना सुनिश्चित किया जाये तथा समय से कार्यों की यूसी भेजना सुनिश्चित किया जाये। आयोजित बैठक में जिलाधिकारी समस्त निर्माणाधीन संस्थाओं को कडे निर्देश देते हुये कहा कि कार्यों की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिया जाये, निर्माण कार्यों की गुणवत्ता में किसी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नही होगी। उन्होंने कहा कि संबंधित विभाग के अधिकारी भी नियमित कार्यों की जांच कर गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दें, किसी भी प्रकार की कमी पाए जाने पर तत्काल अवगत कराएं। उन्होंने कहा कि कार्यों को निर्धारित समय सीमा में पूर्ण करना सुनिश्चित करें और जिन परियोजनाओं में प्रथम किस्त का उपभोग कर लिया गया है तत्काल पत्र प्रेषित किस्त की मांग कर ली जाये। निर्माण कार्यों की गुणवत्ता में किसी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नही होगी। बार्डर डवलपमेन्ट की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी द्वारा नेडा, आगंनबाडी, पीडब्लूडी, बेसिक शिक्षा,जल निगम, गन्ना, सिंचाई, स्वास्थ विभाग, पशुपालन, बाल विकास एवं पुष्टाहार सहित सम्बन्धित विभाग जो बार्डर एरिया डवलपमेन्ट के अन्तर्गत विगत वर्षो के कार्यो का डाटा फोटो सहित अपलोड करने हेतु निर्देशित किया गया। साथ ही साथ सबंधित विभागों को निर्देशित किया गया कि इस योजना के अन्तर्गत चिन्हित 25 ग्राम पंचायतों के विकास हेतु ऐसी योजना तैयार कर प्रस्ताव प्रेषित करें जो नये रूप में विकास का साधन बने।
बैठक में अधिशासी अभियंता पीडब्ल्यूडी, अधिशासी अभियंता विद्युत, बेसिक शिक्षा अधिकारी, सबंधित निर्माणाधीन संस्थाओं के अधिकारीगण उपस्थित रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!