कल से खुलेंगे जनपद के उच्च प्राथमिक विद्यालय

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

● जनपद के सभी एबीएसए उच्च प्राथमिक विद्यालयों पर पहुंचकर जानेंगे हाल

● बीएसए को देंगे रिपोर्ट

सोनभद्र । लगभग दस महीने के लंबे इंतजार के बाद मिडिल और प्राइमरी स्कूल के खुलने की स्वीकृति मिल गई है। जिले में 10 फरवरी से कक्षा छह से आठ तक के सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में पढ़ाई शुरू हो जाएगी। पहले दिन बुधवार को उच्च प्राथमिक स्तर के 50 फीसद बच्चों को बुलाया जाएगा। विद्यालयों में छात्र-छात्राओं के सुरक्षित ठहराव की व्यवस्था की जांच करने के लिए बीएसए डॉ0 गोरखनाथ पटेल ने आज कई परिषदीय विद्यालयों का निरीक्षण किया है। प्रबंध समिति व शिक्षकों द्वारा विद्यालयों की साफ-सफाई कराई जा रही है।

बीएसए डॉ0 गोरखनाथ पटेल ने बताया कि “सरकार द्वारा दिए गए गाइडलाइन के अनुसार सभी उच्च प्राथमिक विद्यालयों को निर्देशित किया गया है कि बुधवार से आ रहे छात्र-छात्राओं को पठन-पाठन शुरू किया जाए। किसी प्रकार से कोई दिक्कत या परेशानी आने पर तत्काल संबंधित एबीएसए को अवगत कराएं। बीएसए ने बताया कि सभी एबीएसए को दिशा निर्देशित किया गया है कि अपने-अपने क्षेत्रों में बुधवार को विद्यालय खुलते ही उच्च प्राथमिक विद्यालयों का निरीक्षण कर आवश्यक दिशा निर्देश दें। जिससे कि बच्चों के पठन-पाठन प्रक्रिया में किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत उत्पन्न ना हो।”

छात्र-छात्राओं के बैठने की व्यवस्था

गाइडलाइन्स के अनुसार छात्र-छात्राओं के बीच कम से कम 6 फीट की दूरी के साथ बैठने की व्यवस्था की जाय

● यदि विद्यालय में एक सीट का बेंच-डेस्क हो तो इसे भी 6 फीट की दूरी पर बैठने की व्यवस्था की जाय

● इसी प्रकार शिक्षक के स्टाफ रूम/कार्यालय/आगत कक्ष में भी 6 फीट की दूरी पर बैठने की व्यवस्था चिन्हित की जाय

● विद्यालय के प्रवेश एवं निकास द्वार को भी विभिन्न कक्षाओं के अनुसार कमवार समय आवंटित करते हुए आने एवं जाने के लिए चिन्हित किया जाय

2. विद्यालय के सभी गेट को आगमन एवं प्रस्थान के समय खुला रखा जाय ताकि एक जगह भीड़ एकत्रित न हो

● जहाँ तक सम्भव हो पब्लिक एड्रेस सिस्टम का उपयोग अभिभावक/विद्यार्थी के लिए सुनिश्चित किया जाय

● उच्च प्राथमिक विद्यालय के वर्गकक्ष/बाहरी नोटिस बोर्ड / दिवाल आदि पर सामाजिक दूरी का पालन करने/मास्क लगाने/सेनेटाइजेशन/हाथ सफाई/यत्र-तत्र थूकने से प्रतिबंध के संबंध में मुद्रित पोस्टर का प्रदर्शन किया जाय

● विभिन्न स्थलों यथा-आगंतुक कक्ष/हाथ सफाई स्थल/पेयजल केन्द्र/टॉयलेट के बाहर जमीन पर वृत्ताकार चिन्ह 6 फीट की दूरी पर निशान बनाया जाय

3. विद्यालय की समय तालिका

● प्रत्येक कक्षा में छात्रों की कुल क्षमता की 50 प्रतिशत उपस्थिति प्रथम दिन रहे तथा शेष 50 प्रतिशत की उपस्थिति दूसरे दिन रहे। इस प्रकार किसी भी कार्य दिवस पर किसी भी कक्षा में कुल क्षमता का 50 प्रतिशत से अधिक उपस्थिति नहीं होगी।

विद्यालय में कक्षाओं का संचालन निम्न शेड्यूल के अनुसार किया जायेगा

उच्च प्राथमिक स्तर पर सोमवार व बृहस्पतिवार को कक्षा-6, मंगलवार व शुकवार को कक्षा-7, बुद्धवार व शनिवार को कक्षा-8



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!