दो शातिर आरोपी गिरफ्तार, गिरोह बनाकर करते थे लूटपाट

राजेश गुप्ता (जिला संवाददाता)

पीलीभीत । पुलिस अधीक्षक जयप्रकाश के द्वारा जनपद में चलाए जा रहे अपराधियों की धरपकड़ अभियान के क्रम में जनपद पीलीभीत की कोतवाली दियोरिया कलां पुलिस को 10 दिनों के अंदर ही दूसरी कामयाबी मिली है।आपको बताते चलें अभी हाल में ही धन दोगुना करने वाले 6शातिर ठग आरोपियों को कोतवाली दियोरिया कलां पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा था।वही दियोरिया कलां पुलिस की यह दूसरी कामयाबी तथा प्रशंसनीय भरा कार्य सामने आया है।पुलिस के द्वारा बताया गया है थाना दियोरिया कलां पर पंजीकृत मुकदमा अपराध संख्या 23/21धारा 392 भारतीय दंड विधान की घटना का खुलासा करने के लिए पुलिस अधीक्षक जयप्रकाश के द्वारा घटना का खुलासा करने के लिए पुलिस अधीक्षक जयप्रकाश के द्वारा सख्त निर्देश दिए गए थे।जिस के क्रम में कोतवाली दियोरिया कलां प्रभारी निरीक्षक मनीराम सिंह के द्वारा दिशा निर्देशन में पुलिस टीम गठित कर आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए विशेष चेकिंग अभियान चलाया गया।पुलिस द्वारा आगे बताया गया है चेकिंग अभियान के समय बेनीपुर की तरफ से चोरी की मोटरसाइकिल नंबर यूपी 25AK0 242 यामाहा से आ रहे दो सवारों की पुलिस के द्वारा तलाशी ली गई।वही तलाशी के दौरान के पुलिस के द्वारा दोनों के पास से एक अदद तमंचा व कारतूस 315 बोर,चाकू,3 मोबाइल चोरी किये हुए तथा मोटर साइकिल चोरी की हुई बरामद की गई है।

दियोरिया पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार दो आरोपी श्याम उर्फ श्यामू पुत्र सीता राम निवासी ग्राम पिपरिया संजरपुर थाना दियोरिया कलां जनपद पीलीभीत और राम उर्फ रामू पुत्र सीताराम निवासी ग्राम पिपरिया संजय पुर थाना दियोरिया कलां जनपद पीलीभीत यह दोनों लोग शातिर किस्म के अपराधी हैं और एक संगठित गिरोह बनाकर चोरी लूटपाट की घटनाओं को जनपद तथा गैर जनपद में अंजाम देते हैं।गिरफ्तार दोनों शातिर आरोपियों का अपराधिक इतिहास रहा है इनके दोनों के नाम थाना बिलसंडा,थाना दियोरिया कलां जनपद पीलीभीत के अलावा थाना बारादरी जनपद बरेली में पूर्व में गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज रहे हैं।प्रभारी निरीक्षक दियोरिया कलां कोतवाली मनीराम सिंह के द्वारा शातिर अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए गठित की गई टीम में उप निरीक्षक राजेंद्र सिंह,उप निरीक्षक पवन वीर सिंह व हेड कांस्टेबल ज्ञान चंद्र,हेड कांस्टेबल जाकिर हुसैन,कांस्टेबल अंकुश चौधरी,कांस्टेबल गौरव कुमार सागर,कांस्टेबल शुभम कुमार, कांस्टेबल रूपचंद्र शामिल रहे हैं।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!