विधायक के बयान के बाद बवाल, सोनभद्र में मानव तस्करी का मुद्दा गरमाया

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । बाल मजदूरों की तस्करी को लेकर दुद्धी विधायक हरिराम चेरो ने मामले को उठाया तो अपना दल (एस0) आगे आकर इस बात की सफाई देने लगी कि यह पार्टी का नहीं बल्कि विधायक का व्यक्तिगत बयान हो सकता है।

लेकिन दुद्धी विधायक ने जिस तरह से सांसद समेत सभी जनप्रतिनिधियों के ऊपर आरोप लगाया था, उस पर अभी तक किसी जनप्रतिनिधि ने अपना पक्ष नहीं रखा। शायद जनप्रतिनिधि भी सोच रहे होंगे कि इस मामले में चुप रहना ही बुद्धिमानी होगी।

लेकिन सोनांचल संघर्ष वाहनी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रोशन लाल यादव का कहना है कि “यहां रोजगार के नाम पर आदिवासी मजदूरों को ठगा जा रहा है। उनका कहना है कि इसके पीछे सफेदपोश काम कर रहे हैं। उन्होंने जनप्रतिनिधियों पर आरोप लगाते हुए कहा कि वे इस गंभीर मुद्दे को कभी नहीं उठाया।”

देखें वीडियो

वहीं जिले के पुलिस अधीक्षक अमरेंद्र प्रसाद सिंह भी मान रहे है कि “बच्चों की तस्करी काफी गंभीर मुद्दा है और सरकार इसके लिए चिंतित है। पुलिस अधीक्षक का कहना है कि यहां ठगी करने वाला गिरोह भी काफी सक्रिय है जो यहां से बच्चों को झांसा देकर बाहरके जाते हैं।”

बहरहाल कुल मिलाकर यह कहा जा सकता है कि सरकार से लेकर अधिकारी व जनप्रतिनिधि रोजगार के नाम पर बाल तस्करी किये जाने के मामले को गंभीर जरूर बता रहे हैं लेकिन सवाल यह उठता है कि आखिर यह समस्या उत्पन्न क्यों हुई और कब तक खत्म हो जाएगा इस पर कोई क्यों नहीं बोल रहा।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!