सांसद की अध्यक्षता में जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति की बैठक सम्पन्न

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

पीलीभीत । सांसद फिरोज वरूण गांधी की अध्यक्षता में जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिशा) की बैठक गांधी सभागार में सम्पन्न हुई। आयोजित बैठक में सांसद द्वारा द्वारा जनपद में विकास कार्यों से सम्बन्धित विभिन्न योजनाओं व विधायकगणों द्वारा विकास से सम्बन्धित बताई गई समस्याओं का संज्ञान लेते हुये जिलाधिकारी को ससमय निस्तारण करने हेतु निर्देशित किया गया। सांसद द्वारा जनपद के सौन्दर्यीकरण के दृष्टिगत सभी नगर पालिकाओं/नगर पंचायतों तथा प्रमुख सड़कों के किनारे खाली भूमि पर वृहद वृक्षारोपण कार्यक्रम सामुदायिक जन सहभागिता को सम्मिलित करते हुये संचालित करने के निर्देश दिये गये। आयोजित बैठक में विधायक बरखेडा व पूरनपुर द्वारा विद्युत विभाग से सम्बन्धित समस्याओं के सम्बन्ध में अवगत कराने पर संज्ञान लेते हुये तत्काल निस्तारित करने के निर्देश दिये गये। सांसद द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत पात्र लाभार्थियों को योजना का लाभ प्रदान करने के साथ साथ जनप्रतिनिधियों द्वारा उपलब्ध कराई गई शिकायतों के सम्बन्ध में जिलाधिकारी को जांच कराने के निर्देश दिये गये। इस सम्बन्ध में जिलाधिकारी द्वारा मुख्य विकास अधिकारी को टीम गठित कर जांच कर आख्या उपलब्ध कराने के निर्देश दिये गये। बैठक के दौरान विधायक बीसलपुर द्वारा बीसलपुर में सद्भावना मंडप भवन का विस्तार कर नम्बर 108 के साथ साथ 109 की आंशिक भूमि को भी सम्मिलित करने का प्रस्ताव रखा गया और साथ ही साथ नदी के किनारे विधायक निधि से अपूर्ण श्मशान घाट को पूर्ण कराने के निर्देश दिये गये। इसके साथ ही साथ विधायक द्वारा बीसलपुर में सिविल जज डिविजन के कार्यालय में आवश्यक सुविधाओं की उपलब्धता न होने के कारण सहकारिता की भूमि पर उक्त के कार्यालय का निर्माण हेतु प्रस्ताव रखा गया। विधायक पूरनपुर द्वारा ग्राम बिल बुझिया, जोगराजपुर व श्रीनगर में खरोट व पासी वर्ग के जाति प्रमाण निर्गत करने की समस्या अवगत कराने पर जिलाधिकारी द्वारा अपर जिलाधिकारी (न्यायिक) को उक्त समय का समाधान करने हेतु निर्देशित किया गया। समीक्षा के दौरान सांसद द्वारा कृषि विभाग द्वारा संचालित योजनाओं, वन्य जीव मानव संघर्ष को रोकने हेतु जंगल के किनारे किनारे तार फेंसिंग व जंगल के किनारे गन्ने के अतिरिक्त अन्य फसलों को बढ़ावा देने के निर्देश दिये गये। इस सम्बन्ध में जिला गन्ना अधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि जंगल के किनारे स्थित किसानों को सतावर, केले व हल्दी की फसलों को बढा़वा देने हेतु प्रोत्साहित किया जा रहा है तथा इस वर्ष गन्ने की पर्चियों को प्राथमिकता के आधार पर प्रदान की गई है। सांसाद द्वारा ग्रामों में बन्दरों की समस्या से निजात पाने के लिए ग्रामों में खाली भूमि पर फलदार वृक्षों को लगाकर ईको जोन के रूप में विकसित करने के निर्देश दिये गये। इसके साथ ही साथ सांसद द्वारा पर्यटन व वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफी को बढ़ावा देने के निर्देश दिये गये।
बैठक के उपरान्त सांसद द्वारा रामलुभाई साहनी महिला महाविद्यालय में नवनिर्मित कक्ष भवनों व राष्ट्रीय कृषि विभाग योजना के अन्तर्गत रू0 80.14 लाख की लागत से नव निर्मित मल्टीपरपज सीड स्टोर एवं टैक्नोलोजी डेसीमिनेशन सेंटर का लोकार्पण कर शुभारम्भ किया गया। बैठक में विधायक बीसलपुर अगयश रामसरन वर्मा, विधायक पूरनपुर बाबूराम पासवान, विधायक बरखेड़ा किशन लाल राजपूत, जिलाधिकारी पुलकित खरे, पुलिस अधीक्षक जयप्रकाश, जिला निगरानी समिति के सदस्य व सांसद प्रवक्ता एम आर मलिक, पूर्व चैयरमेन प्रभात जायसवाल, चैयरमेन ममता गुप्ता, न्यूरिया चैयरमेन अब्दुल फय्यूम, ब्लाक प्रमुख एवं अन्य जनप्रतिनिधि/अधिकारीगण उपस्थित रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!