जिलाधिकारी ने कृषि भवन कार्यालय का किया औचक निरीक्षण

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

पीलीभीत। जिलाधिकारी पुलकित खरे द्वारा शुक्रवार को कृषि भवन कार्यालय के अन्तर्गत कृषि उप निदेशक, जिला कृषि रक्षा अधिकारी, जिला भूमि एवं संरक्षण अधिकारी कार्यालयों का औचक निरीक्षण किया गया। कार्यालयों के निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी द्वारा कर्मचारियों की उपस्थिति की जांच की गई, समस्त कर्मचारी मौके पर उपस्थित पाऐ गये। निरीक्षण के दौरान सभी पटल सहायकों कार्यों की जांच करते हुये आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये।
उप निदेशक कृषि कार्यालय के निरीक्षण के दौरान डीबीडी कक्ष में किसानों के पुराने डीबीडी या अन्य योजनाओं के आवेदनों पत्रों के सम्बन्ध में निर्देशित करते हुये कहा कि जिन किसानों का डीबीडी की जा चुकी है, उनका नियमानुसार निस्तारित किया गया। कक्ष में अनावश्यक रूप से अल्मारियों के ऊपर रखी सामग्री को हटाकर साफ सुथरा करने के निर्देश दिये गये। निरीक्षण के दौरान किसान सम्मान निधि, आईजीआरएस, अवस्थापना, मीटिंग हाॅल, तकनीकी कक्ष के पटल सहायकों की समीक्षा के दौरान निर्देशित करते हुये कहा कि किसान सम्मान निधि योजना के अन्तर्गत त्रुटि हुये आवेदन पत्रों में संशोधन कर पात्र लाभार्थियों को योजना का लाभ दिया जाये तथा आईजीआरएस के सम्बन्ध में निर्देशित करते हुये कहा कि कार्यालय में लम्बित प्रकरणों का तत्काल ससमय निस्तारण कराना सुनिश्चित किया जाये।
निरीक्षण के दौरान जिला कृषि रक्षा अधिकारी एवं भूमि संरक्षण कार्यालय में कम्प्यूटर, फोटो स्टेट मशीन, यूपीएस खराब स्थिति में पाए जाने पर उप निदेशक कृषि को निर्देशित करते हुये कहा कि जो सामाग्री मरम्मत योग्य हो उसे तत्काल ठीक कराया जाये तथा जो सामग्री निष्प्रोज्य है उसका नियमानुसार निस्तारण किया जाये। कार्यालय परिसर में अनावश्यक व अनुपयोगी सामग्री को किसी भी दशा में न रखा जाये। मीटिंग हाॅल के निरीक्षण के दौरान प्रोजेक्ट व खिड़कियों में परदे लगाने के साथ साथ मीटिंग हाॅल में अनावश्यक रखे बाक्सों को हटाकर साफ सफाई कराने के निर्देश दिये गये। हाॅल में नमी आने के कारण तत्काल अधिशासी अभियन्ता से समन्वय स्थापित कर ठीक कराने के निर्देश दिये गये। परिसर के बाहर निरीक्षण के दौरान गन्दगी पाए जाने पर असंतोष व्यक्त करते हुये अधिशासी अधिकारी नगर पालिका से समन्वय स्थापित कर साफ सफाई कराने के साथ खाली भूमि पर जैविक व वर्मी कम्पोस्ट का माॅडल बनाने व कृषि प्रदर्शन हेतु अच्छी प्रजातियों की फसलों उगाने के निर्देश दिये गये। उन्होंने परिसर रैन हार्वेस्टिंग की अधिशासी अभियन्ता जल निगम से समन्वय स्थापित कर ठीक कराने के निर्देश दिये गये। निरीक्षण के दौरान उप निदेशक कृषि यशराज सिंह, जिला कृषि रक्षा अधिकारी, पटल सहायक सहित कर्मचारीगण उपस्थित रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!