ओवरलोड वाहनों के संचालन से सड़कें हो रहीं खराब, ग्रामीणों में रोष

राजा (संवाददाता)

– अमवार की तरफ जा रही हैं ओवरलोड हाइवा गाड़ियां

– सड़क किनारे बसे लोगों की उड़ती धूल तथा तेज रफ्तार से झेलनी पड़ती हैं परेशानी

अमवार। ओवर लोड एवं अवैध खनन को लेकर जिला प्रशासन गम्भीरता दिखाते हुए जिले में कई संयुक्त टीम गठन कर दी है जो समय – समय पर अपने अपने क्षेत्र में जांच कर ओवर लोड पर लगाम लगाने के लिए दृढ़ संकल्पित है फिर भी दुद्धी क्षेत्र में ओवर लोड एवं अवैध खनन की शिकायतें आती रहती हैं।इन दिनों कई ओवरलोड गाड़ियां धड़ल्ले से अमवार की तरफ जा रही हैं।ओवर लोड गाड़ियों की संचालन से एक तरफ जहां सड़के क्षतिग्रस्त हो रही हैं तो वही राजस्व की भी क्षति हो रही हैं क्योंकि वाहनों का संचालन भले ही ओवरलोड रहती हैं लेकिन परमिट उसकी लिमिट के अंदर ही होती हैं या कभी कभी तो एक ही परमिट पर कई चक्कर भी चलते हैं।ऐसे में सरकार के पास राजस्व कुछ जाता है और परिवहन कुछ और ही होता है।

ओवरलोड वाहनों के संचालन से सड़क के किनारे बसे लोगों को भी परेशानियों का सामना करना पड़ता है क्योंकि ओवरलोड एवं अवैध खनन से जुड़े वाहनें काफी तेजी से चलती हैं जिससे दुर्घटना की भी संभावना बनी रहती हैं।अभी कुछ दिन पहले भी एक तेज रफ्तार टिपर का शिकार दुद्धी कोतवाली पुलिस की गाड़ी हुई थी तब लगा था कि ओवरलोड और अवैध खनन को लेकर सख्त कदम उठाए जाएंगे लेकिन दुद्धी क्षेत्र में कई कार्यवाहियों के बावजूद भी अवैध खनन और ओवर लोड का संचालन पर लगाम नही लग पा रही हैं।जिससे राजस्व की क्षति के साथ आमलोगों में दुर्घटना की संभावना बनी रहती हैं। क्षेत्र के बुद्धजीवियों ने जिला प्रशासन से ओवरलोड वाहनों के संचालन पर लगाम लगाने की मांग की है ताकि सड़कें सुरक्षित रह सकें और राजस्व की क्षति न हो ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!