लम्बित कार्यों को औद्योगिक इकाईयां तत्परता से करें पूरा – डीएम

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । आज जिलाधिकारी अभिषेक सिंह की अध्यक्षता में आज कलेक्ट्रेट मींटंग हाल में सामाजिक नैगमिक दायित्व/सी0एस0आर0 की समीक्षा बैठक सम्पन्न हुई। जिलाधिकारी ने पर्यावरण संरक्षण के सम्बन्ध में प्राप्त दिशा निर्देशों के अनुरूप मानकों को पूरा करने के निर्देश औद्योगिक ईकाइयों को देते हुए कहा कि हर हाल में पर्यावरण के संरक्षण के मानकों को पूरा किया जाय। जिलाधिकारी ने कहा कि राष्ट्रीय हरित न्याधिकरण/एनजीटी के दिशा-निर्देशों का अक्षरशः अनुपालन किया जाय।

जिलाधिकारी ने संबंधितों को ताकीद करते हुए कहा कि “सामाजिक नैगमिक दायित्व/सी0एस0आर0 के तहत जिले में स्थापित औद्योगिक इकाईयां अपने उत्पादन एरिया से हटकर जिले के अन्य दुरूह क्षेत्रों में नागरिकों को सहूलियत मुहैया करायें, तभी सामाजिक नैगमिक दायित्व/सी0एस0आर0 की सार्थकता सिद्ध होगी। औद्योगिक इकाईयां सीएसआर के कार्यों को समयबद्ध तरीके से अपना दायित्व समझते हुए पूरा करें। जिले के सरकारी विभाग, जिन्हें सी0एस0आर0 की मदद से अपने विभागीय भवनों, स्कूलों के साथ ही जन कल्याण के लिए मदद की जरूरत है, वे बैठक में दी गयी ट्रेनिंग के मुताबिक अपलोडिंग की कार्यवाही करेंगें और अपलोड कार्ययोजनाओं को जिले की औद्योगिक इकाईयॉ उपलब्ध बजट के मुताबिक स्वीकार करेंगी और कार्य कराने हेतु सक्षम कमेटी द्वारा बैठक में मंजूरी दी जायेगी। लम्बित कार्यों को औद्योगिक इकाईयां तत्परता के साथ पूरा करते हुए सामाजिक नैगमिक दायित्व को पूरा करें।”

बैठक के दौरान जिलाधिकारी अभिषेक सिंह ने कहा कि “जो भी आरओ प्लांट, फ्लोराइड रिमूवल प्लांट गांवों में लगाये गये हैं, उनकी नियमित रूप से पानी की गुणवत्ता को परखें, ताकि पीने वाले पानी में गंदगी न रहें और नागरिकगण स्वस्थ्य रहें साथ ही उसका मरम्मत इत्यादि का कार्य समय से कराया जाय।”

जिलाधिकारी ने जिले में स्थापित औद्योगिक इकाई के प्रतिनिधियों से कहा कि सी0एस0आर0 मद से मिलने वाली धनराशि का उपयोग करते हुए नागरिकों के भलाई के लिए कार्य किये जाय जैसे- स्वास्थ्य, शिक्षा, चिकित्सा, आत्म निर्भर बनाने हेतु रोजगार मुहैया करायें और कहा कि अपने-अपने निर्धारित मद से जिले के उत्थान के लिए सामाजिक क्षेत्र में बेरोजगारों को आत्म निर्भर बनाने के लिए स्वरोजगार हेतु कार्ययोजना तैयार करके उन्हें रोजगार मुहैया कराया जाय। कार्यों में गुणवत्ता के साथ ही पारदर्शिता का भी ध्यान रखा जाय।

बैठक में जिलाधिकारी अभिषेक सिंह के अलावा मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 अमित पाल शर्मा, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 नेम सिंह, जिला विकास अधिकारी रामबाबू त्रिपाठी जिले में स्थापित औद्योगिक इकाईयों के पदाधिकारीगण सहित अन्य गणमान्य नागरिकगण मौजूद रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!