एक फरवरी से तीन फरवरी तक आयोजित होगा पीएम किसान समाधान दिवस

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

पीलीभीत। इस दिवस में कृषकों की पीएम किसान से संबन्धित समस्याओं का समाधान किया जायेगा । जनपद में इस बात का व्यापक प्रचार – प्रसार किया जाये कि , जिन किसानों का आधार नं गलत होने के कारण अथवा आधार के अनुसार नाम सही नहीं होने के कारण प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि का लाभ नहीं मिल पा रहा है , वे किसान दिनांक- 01 फरवरी 2021 से 03 फरवरी 2021 तक कार्यालय अवधि में ( सुबह 10 बजे से शाम 05 बजे तक ) अपने विकास खण्ड मुख्यालय पर स्थित राजकीय कृषि बीज गोदाम पर अपने आधार कार्ड / अपने बैंक खाते के विवरण के साथ पहुंचे और अपना डाटा ठीक करायें ।
जिन किसानों को योजना की कम से कम एक किस्त प्राप्त हो चुकी है , किन्तु उनका आधार संख्या या नाम त्रुटिपूर्ण होने के कारण आगामी किस्तें प्राप्त नहीं हो पा रही हैं , ऐसे किसानों का बैंक अभिलेख में अंकित पता , संबन्धित बैंक के शिविर में उपस्थित बैंक कर्मी से प्राप्त करते हुये , शिविर प्रभारी ( बीज गोदाम प्रभारी ) ऐसे कृषकों का डाटा मौके पर ही दुरस्त करायेंगे । pmkisan.gov.in पर जनपदीय उप कृषि निदेशक के लोगिन के अंदर , इनवैलिड आधार करेक्शन और आधार के अनुसार नाम संशोधन की प्रगति प्रदर्शित होती है , उस पर प्रदर्शित हो रही सूचना के अनुसार उप कृषि निदेशक प्रतिदिन अनुश्रवण करते हुये , संशोधन हेतु की जा रही कार्यवाही पर निरंतर नजर रखेंगे और सुनिश्चित करेंगे कि सभी लंबित प्रकरणों का समाधान , निर्धारित किए गए तीन दिनों के अंदर कर लिया जाये ।
यह समाधान मुख्य रूप से इनवैलिड आधार तथा आधार के अनुसार नाम सही कराने के लिए आयोजित किया जा रहा , तदापि इसके अतिरिक्त अन्य समस्याओं को लेकर किसान यदि विकास खण्ड पर पहुंचता है तो , उसका भी यथोचित उत्तर / निराकरण समाधान दिवस में ही कर दिया जाये । विकास खण्ड स्तर पर समाधान दिवस का संचालन , कृषि विभाग के बीज गोदाम प्रभारी द्वारा किया जायेगा , जिसकी सहायता के लिये उस विकासखण्ड के कृषि रक्षा पर्यवेक्षक की ड्यूटी भी लगायी जाती है । इन दोनों कार्मिकों के कार्यों का अनुसरण संबन्धित नोडल अधिकारी द्वारा किया जायेगा । समाधान शिविर के कार्यों का पर्यवेक्षण करने के लिए जनपद के श्रेणी -2 के अधिकारियों की ड्यूटी निम्नवत लगायी गई है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!