आयुक्त ने नीति आयोग के कार्यों का किया समीक्षा

अबुलकैश (डब्बल)

* गोल्डेन कार्ड के लिए सीएमओ को लगाई फटकार।

चन्दौली। आयुक्त वाराणसी मण्डल वाराणसी एवं जनपद के नोडल अधिकारी दीपक अग्रवाल ने एक दिवसीय जनपद दौरा के दौरान शुक्रवार को विकास भवन सभागार में जिलास्तरीय अधिकारियों के साथ नीति आयोग के इंडीकेटर्स/कार्यो की समीक्षा बैठक किया। मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा जनपद में गोल्डेन कार्ड वितरण में लापरवाही बरतने पर जमकर फटकार लगाते हुये, कछुआ की चाल न चलने की हिदायत दी। साथ ही सीएमओ को माइक्रोप्लान बनाकर तीव्रता से गोल्डेन कार्ड बनवाये जाने के निर्देश दिये। मंडलायुक्त ने कहा कि सीएचसी के माध्यम से अभियान चलाकर अधिक से अधिक गोल्डन कार्ड बनवाया जाए। 01 से 15 फरवरी, 2021 तक जिस सीएससी द्वारा अधिक से अधिक लोगों का गोल्डेन कार्ड बनवाया जायेगा, उन्हें चयनित कर सम्मानित करने का कार्य किया जायेगा। हेल्थ एवं वेलनेस सेन्टरों पर समुचित इलाज की व्यवस्था करनें के निर्देश दिया। साथ ही सीएमओं को सभी सामुदायिक एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर दवाओं की पर्याप्त उपलब्धता बनी रहे, मरीजों को बाहर से दवा न लिखने की कड़ी हिदायत दी। बेसिक शिक्षा विभाग की समीक्षा के दौरान कहा कि निर्धारित पैरामीटर पर समस्त वि़द्यालयों में सभी आवश्यक सुविधाएं सुनिश्चित करें। मुहल्ला पाठशाला एवं आन लाइन शिक्षा की जानकारी ली, अधिक से अधिक बच्चों को जोड़कर शिक्षित करायें साथ ही रेमिडियर क्लासेस भी चलाये जाने के निर्देश दिये।

नोडल अधिकारी ने कृषि अधिकारी को निदेर्शित करते हुये कहा कि जनपद में धान का औसत उत्पादन और अधिक बढ़ाने के लिए एक सटीक कार्ययोजना बनायें एवं उनके अनुसार कार्यवाही सुनिश्चित हों। जिला उद्यान अधिकारी को निदेर्शित करते हुये कहा कि कृषि विविधकरण के संबंधित जनपद के किसानों के ट्रेनिंग कार्य करायंे। जनपद में स्थापित धान क्रय केन्द्रों की प्रगति की जानकारी लेते हुये कहा कि जहाॅ कही आवश्यक हो और काॅटे बढ़ाकर काश्तकारों के धान की खरीद तेजी से करें व समय से भुगतान की कार्यवाही कराने के निर्देश जिला खा़द्य विपडण अधिकारी को दिये। साथ ही धान खरीद में कोई लापरवाही या शिकायत नही मिलनी चाहिए इसके लिए लगातार किसानों एवं केन्द्रों का भम्रण करते रहे। गोशाला केन्द्रों का औचक निरीक्षण कराने के निर्देश जिलाधिकारी को दिये। कहा कि ठंढ के दृष्टिगत सभी गोशालाओं में आवश्यक व्यवस्था मौजूद रहे। जनपद में मुद्रा लोन का टारगेट कम रहने पर नाराजगी व्यक्त करते हुये अग्रणी बैंक प्रबन्धक को मुद्रा लोन में अपेक्षित प्रगति लाने के निर्देश दिये। सभी ग्राम पंचायतों को ग्राम सचिवालय के रूप में विकसित करने के निर्देश दिये। ग्राम पंचायत से संबंधित समस्त सेवाओं का संचालन ग्राम सचिवालय के माध्यम से कराने के निर्देश दिये। कहा कि ग्राम स्तर की समस्त सेवाओं का अंकन ग्राम सचिवालय की दीवारों पर अंकित कराये जाने के निर्देश जिला पंचायत राज अधिकारी को दिये। प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री आवास योजना में अवशेष आवासों का निर्माण कार्य में तेजी से कार्य पूर्ण कराने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिये।

इस दौरान पुलिस अधीक्षक से भूमि से संबंधित मामलों में संवेदनशीलता के साथ त्वरित कार्यवाही करने की आवश्यकता पर बल दिया कहा कि ऐसे सभी मामलों पर राजस्व विभाग से समन्वय स्थापित कर पुलिस विभाग समाध्धान की कार्यवाही प्राथमिक स्तर पर ही करवा लें। जनपद में ओवरलोडिंग न हो इसके लिए धर पकड़ पुलिस व सम्भागीय अधिकारी जारी रखे। अधिकारियों को निदेर्शित करते हुये कहा कि पंचायत चुनाव से संबंधित सभी तैयारियाॅ जोर शोर से शुरू कर लें किसी भी स्तर पर कोई कमी न रहें।

बैठक के दौरान जिलाधिकारी श्री संजीव सिंह, पुलिस अधीक्षक अमित कुमार, मुख्य विकास अधिकारी अजितेन्द्र नारायण, अपर जिलाधिकारी अतुल कुमार, जिला कृषि रक्षा अधिकारी सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थें।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!