पुलिस ने किसानों के ट्रैक्टर रैली को रोका, करनी पड़ी मशक्कत

राजेश गुप्ता जिला (संवाददाता)

-जनपद में किसानों के द्वारा ट्रैक्टर रैली को रोकने के लिए पुलिस को करनी पड़ी कड़ी मशक्कत।

-अमरिया और जहानाबाद में रही शांति व्यवस्था कायम।

पीलीभीत। 72वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर तीन बिल कानून विरोध प्रदर्शन के लिए जनपद से ट्रैक्टर ट्राली ले जाए जा रहे किसानों को रोकने के लिए जनपद पुलिस को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा है।वहीं जहां जनपद के समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने एक दिन पहले ही 26 जनवरी के दिन घोषणा कर दी थी कि जो लोग अपने ट्रैक्टर ट्राली को लेकर किसान दिल्ली ना जा पा रहे हैं वह लोग अपने जिले में ही ट्रैक्टर ट्राली रैली को घुमा कर विरोध प्रदर्शन करेंगे।

समाजवादी पार्टी के नेताओं के द्वारा की गई इस घोषणा से पीलीभीत जिला प्रशासन और पुलिस विभाग के आला अधिकारी सतर्क हो गए जिसके चलते आज गणतंत्र दिवस के अवसर पर जनपद के सभी बॉर्डर चौकियों तथा हर चौराहे पर पुलिस फोर्स को तैनात कर दिया गया। थाना न्यूरिया क्षेत्र की पुलिस चौकी मझोला से सैकड़ों की संख्या में किसानों के द्वारा ट्रैक्टर ट्राली को ले जाया जा रहा था जिसको पुलिस फोर्स के साथ थाना प्रभारी न्यूरिया जगत सिंह के द्वारा रुकवाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी मगर किसानों को काफी समझाने के बाद भी वह सफल नहीं हो पाए।

जिसकी सूचना पर पुलिस क्षेत्राधिकारी अनुज मिश्रा तथा उप जिलाधिकारी रामदास तथा चौकी प्रभारी मझोला कमलेश कुमार के द्वारा किये गए अथक प्रयासों एवं समझाने के बाद उग्र हुए किसान शांत हुए। मौके पर उपस्थित किसानों के द्वारा कुछ दूर तक सिर्फ पैदल मार्च निकाला गया।सूचना पर अपर पुलिस अधीक्षक पीलीभीत और अपर जिलाधिकारी पीलीभीत सहित भारी पुलिस फोर्स मौके पर पहुंचा तथा प्रकरण से सम्बंधित जानकारी ली।
इसके अलावा थाना अमरिया प्रभारी उदयवीर सिंह और कोतवाली जहानाबाद प्रभारी निरीक्षक हरीश वर्धन सिंह के कुशल नेतृत्व के कारण दोनों थाना क्षेत्रों में शांति व्यवस्था कायम रही है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!