प्रशासन ने ट्रेक्टर परेड को रोका, हुआ नोक झोंक, धरने पर बैठे किसान

जनपद न्यूज ब्यूरो

मधुपर। आज 26 जनवरी को मधुपुर में डॉ0 भागीरथी सिंह मौर्य एवं डॉ0 सच्चितानन्द के अगुवाई में दोपहर 01 बजे मधुपर से दर्जनों ट्रेक्टरो के साथ सैकङो किसान परेड करते हुए जिलाधिकारी कार्यालय के लिए रवाना हुए । ट्रेक्टर परेड जैसे ही आमडीह हिनौता माइनर के पास पहुचा सुकृत चौकी इंचार्ज पुलिस बल के साथ पहुच ट्रेक्टर परेड को रोक दिया ।पुलिस प्रशासन एवं किसानों के बीच हल्की नोक झोंक भी हुई परन्तु पुलिस ने ट्रेक्टर परेड को आगे नही जाने दिया । जिससे आकोषित किसान सड़क की पटरी पर धरने पर बैठ गए ।

इस दौरान भागीरथी सिंह मौर्य एवं सच्चितानन्द ने कहा कि स्वतंत्र देश मे आजादी के पर्व पर ट्रेक्टर परेड न करने देना लोकतंत्र का गला घोटना है , किसान शांति पूर्वक परेड निकाले कृषि बिल से आजादी की मांग कर रहा था जिसे सरकार के इशारे पर पुलिस ने रास्ते मे रोक जो स्वस्थ्य लोकतंत्र में ठीक नही है सरकार पुलिस के दम पर किसानों की आवाज दबाना चाहती है परंतु किसानों की आवाज दबाना सरकार के बस की बात नही है ।
दिल्ली में ट्रेक्टर परेड के दौरान गणतंत्र दिवस के अवसर पर सरकार के इशारे पर पुलिस ने किसानों के ऊपर लाठी चार्ज , आंसूगैस के गोले , रबर की गोलियां बर्बरता पूर्वक चलना बहुत ही निंदनीय है जिसकी भत्सर्ना की जाती है ।
आगे किसानों ने दिल्ली किसान आंदोलन में शहीद हुए किसानों को शहीद का दर्जा , परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी एवं आश्रितों के भरण पोषण के लिए एक करोङ का मुआवजा दिए जाने व किसानों के बिरुद्ध लाए गए तीनो काले कृषि बिल एवं पराली कानून को तत्काल वापस करने की मांग किया ।
चौकी इंचार्ज के घण्टो समझाने के बाद भागीरथी सिंह मौर्य ने धरना को स्थगित करते हुए कहा कि दिल्ली में धरना प्रदर्शन कर रहे किसानों के आह्वान पर अनवरत धरना प्रदर्शन किया जाएगा ।
इस दौरान करीमन पटेल , रामचन्द्र मौर्य , सुनील मौर्य ,कमल वर्मा , कृष्ण कुमार मौर्य , रामाशीष मौर्य , लक्ष्मी शंकर , कृपा शंकर विजय कुमार , राधेश्याम , , प्रेमचंद पटेल , अरविंद यादव , रामजी , सीतला प्रसाद , रमाशंकर पटेल , सहित सैकङो लोग मौजूद रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!