यूपी स्थापना दिवस पर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

० जिलाधिकारी द्वारा आईएएस/पीसीएस एवं एलाइड सेवा के अधिकारियों द्वारा साक्षात्कार प्रशिक्षण/आॅनलाइन प्रशिक्षण/काउंसिलिंग प्रदान करने की गई घोषणा

० उत्तर प्रदेश स्थापना दिवस के अवसर पर विधायकगणों द्वारा सामुदायिक शौचालयों का किया गया डिजिटल लोकार्पण

० स्वच्छता भारत मिशन ग्रामीण के अन्तर्गत श्रेष्ठ सार्वजनिक शौचालय पर आधारित पुस्तिका का किया गया विमोचन

० समाज या जनपद के लिए सराहनीय योगदान देने वाले वाले व्यकितयों को प्रशस्ति व स्मृति चिन्ह देकर किया गया सम्मानित

० दुग्ध उत्पादन में सराहनीय योगदान हेतु गोकुल व नन्दबाबा पुरस्कार से किया गया सम्मानित

पीलीभीत । 71वें उत्तर प्रदेश स्थापना दिसव के अवसर पर गांधी प्रेक्षागृह में विभिन्न कार्यक्रमों/ सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। आयोजित कार्यक्रम का शुभारम्भ विधायक बीसलपुर अगयश रामसरन वर्मा, विधायक सदर संजय सिंह गंगवार, विधायक बरखेड़ा किशनलाल राजपूत, विधायक पूरनपुर बाबूराम पासवान एवं जिलाध्यक्ष संजीव प्रताप सिंह, जिलाधिकारी पुलकित खरे, पुलिस अधीक्षक जय प्रकाश द्वारा दीप प्रज्जवलित कर किया गया। इसके पश्चात मुख्यमंत्री के लाइव उद्बोधन का सजीव प्रसारण देखा गया और इसके साथ ही साथ उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा जारी राज्य गीत की चलचित्र की प्रस्तुति व उपलब्धियों पर लघु फिल्म की प्रस्तुति की गई। इस अवसर पर मुख्यमंत्री द्वारा प्रदेश वासियों को बधाई देते हुये विकास की उपलब्धियों के बारे में जानकारी दी गई।आयोजित कार्यक्रम में जिलाधिकारी द्वारा स्वागत भाषण के पश्चात जनपद की उपलब्धियों के सम्बन्ध में जानकारी देते हुये कहा कि जनपद के किसानों की आय दोगुनी करने हेतु कृषि विभाग के अन्तर्गत प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के अन्तर्गत 293797 किसानों को रू0 58 करोड़ की सहयोग राशि सीधे उनके बैंक खातों में भेजी गई। इन सीटू यंत्रीकरण योजनान्तर्गत 179 कस्टम हायरिंग सेंटरों की स्थापना की गयी, फसल ऋण मोचन योजना के तहत 50753 किसानों का कुल 262 करोड़ रू0 का कर्ज माफ किया गया, किसानों से सीधे 1184958 मीट्रिक टन धान की खरीद, 485218 गन्ना किसानों का रू0 3586 करोड़ का भुगतान किया गया। उन्होंने कहा कि चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने हेतु जनपद को रू0 245 करोड़ का राजकीय मेडिकल कालेज की स्थापना के साथ रू0 33 करोड की लागत से सामुदायिक एवं प्राथमिक केन्द्रों का निर्माण कराया गया, साथ ही साथ जनपद में डायलिसिस की व्यवस्था भी जिला अस्पताल में संचालित की जायेगी तथा आयुष्मान भारत योजना के अन्तर्गत 11681 मरीजों को रू0 14 करोड़ की निःशुल्क इलाज प्रदान किया गया है तथा स्वास्थ्य सेवाओं को दूर दराज क्षेत्रों में पहुंचाने हेतु आरोग्य मेले तहत चिकित्सीय सुविधाऐं उपलब्ध कराई जा रही है। आयुष्मान योजना के तहत 1 लाख 63 हजार 121 गोल्डन कार्डो का वितरण किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि जनपद में अच्छी शिक्षा हेतु रू0 58 करोड की लागत राजकीय महाविद्यालय, आईटीआई, माॅडल इण्टर कालेज, पाॅलीटेक्निक का निर्माण व मिशन कायाकल्प के तहत 1682 प्राथमिक व उच्च विद्यालयों का कायाकल्प के साथ साथ छात्र/छात्राओं को यूनीफार्म, जूता, स्वेटर, बैग वितरित किये गये। उन्होंने कहा कि समाज कल्याण विभाग द्वारा 1 लाख दो हजार लाभार्थियों को पेंशन, 3.08 लाख लाभार्थियों को प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा व प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना के तहत 72666 लाभार्थियों को लाभ प्रदान किया गया। उन्होंने कहा कि पशु पालन विभाग द्वारा 23 वृहद गौशाला का निर्माण निराश्रित गोवंशों को संरक्षित किया गया, प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत 20458 व शहरी 11018 एवं मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत 204 आवास निर्मित किये गये। जनपद को स्वच्छ एवं शौचालय सुविधा कराने के दृष्टिगत 670 ग्राम पंचायतों में सामुदायिक शौचालयों का निर्माण, खाद्य एवं रसद विभाग के अन्तर्गत उज्जवला योजना से 197293 परिवारों को निःशुल्क गैस कनेक्शन, श्रमिक कल्याण हेतु प्रधानमंत्री श्रम योगीमान धन योजना के अन्तर्गत 12540 श्रमिकों लाभान्वित किया गया। जनपद में युवाओं को रोजगार देने के दृष्टिगत कौशल विकास मिशन के तहत 18936 युवाओं को प्रशिक्षित करने के साथ आजीविका मिशन के तहत 19943 समूहों को रू0 3.6 करोड की आर्थिक मदद उपलब्ध कराई गई। इसके साथ ही जिलाधिकारी द्वारा कोविड-19 आपदा के तहत उपलब्ध कराई आर्थिक सहायता व अवस्थापना सुविधाओं के अन्तर्गत निर्मित सड़क व पुलों के कार्यों पर प्रकाश डाला गया तथा जनपद में निर्मित विभिन्न कार्यों के सम्बन्ध में जानकारी दी गई।

इस अवसर पर जिलाधिकारी द्वारा घोषणा की गई कि जनपद पीलीभीत में प्रतियोगी परीक्षा हेतु प्रतिभाशाली एवं उत्साही योग्य एवं इच्छुक प्रतिभागियों को जनपद में पदस्थ आईएएस/पीसीएस एवं एलाइड सेवा के अधिकारियों द्वारा साक्षात्कार प्रशिक्षण/आॅनलाइन प्रशिक्षण/काउंसिलिंग प्रदान किया जायेगा। दिनांक 24 से 26 जनवरी तक जनपद, विकासखण्ड स्तरीय, निबन्ध, चित्रकला, वाद विवाद, भाषण, कविता जैसी विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जायेगा। कार्यक्रमों के अन्तर्गत विधायकगणों व जनप्रतिनिधियों द्वारा जनपद में श्रेष्ठ व सुन्दर सामुदायिक शौचालय निर्माण पर आधारित पुस्तिका का विमोचन किया गया और इसके साथ विधायकगण द्वारा अपनी अपनी विधानसभा में नवनिर्मित सार्वजनिक शौचालयों का डिजिटल लोकार्पण किया गया तथा सार्वजनिक शौचालय के निर्माण प्रथम स्थान पाने वाले ग्रामप्रधान कजरी निरंजनपुर मनदीप कौर व सचिव लाल बहादुर को सम्मानित किया गया। आज आयोजित कार्यक्रम में श्रम विभाग द्वारा 23 श्रमिक लाभार्थियों के बच्चों को साइकिल प्रदान की गई, 52 स्वयं सहायता समूहों को सामुदायिक निवेश हेतु रू0 57 लाख व 40 समूहों को बैंक लिंकेज हेतु रू0 40 लाख के चेक प्रदान किये गये। दुग्ध उत्पादन करने में जनपद में सराहनीय कार्य करने वाले तेजेन्द्र सिंह को गोकुल पुरस्कार रू0 51 हजार की धनराशि व अमरदीप सिंह को नन्द बाबा पुरस्कार को रू0 21 हजार का चेक प्रदान किया गया तथा कृषको को ट्रेक्टर की चाबी प्रदान की गई। इसके साथ ही साथ कार्यक्रम में उच्च स्थान प्राप्त करने वाले छात्र/छात्राओं, अच्छा कार्य करने वाले राधे राधे, महावीर, सहेली, श्रीगणेश, जयश्री, विकास महिला स्वयं सहायता समूहो, पशुपालन, गन्ना व कृषि क्षेत्र में अच्छा कार्य करने वाले कृषकों को सम्मानित किया गया। समाज या जनपद के लिए सराहनीय योगदान देने वाले वाले 11 व्यकितयों को प्रशस्ति व स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुये विधायक बरखेडा ने द्वारा जनपद में कृषि व शिक्षा के क्षेत्र में किये गये कार्यों की सराहना की गई तथा सरकार द्वारा विकास के लिए किये जा रहे कार्य पर भी प्रकाश डाला गया, विधायक ने जिलाधिकारी द्वारा जनपद में कराये गये कार्यों की सराहना की गई। विधायक सदर द्वारा उत्तर प्रदेश सरकार की उपलब्धियों पर प्रकाश डालते हुये कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा कोरोना काल में टीम 11 का गठन कर दिन रात कार्य हम लोगों को सुरक्षा प्रदान की है, उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा पार्को का सौन्द्र्रीयकरण, सड़क निर्माण, स्वच्छता जैसे कराये जा रहे कार्यों को संरक्षित रखना हम सबका दायित्व है। कार्यक्रम में विधायक बीसलपुर द्वारा उत्तर प्रदेश के ऐतिहासिक, धार्मिक एवं सांस्कृतिक विरासत व उपलब्धियों पर प्रकाश डालते हुये कहा कि हमारा प्रदेश ऐतिहासिक दृष्टि से सर्वोच्च है तथा उत्तर प्रदेश की धरती पर महान पुरूषों ने जन्म लिया है और हमारी सरकार विकास के क्षेत्र में उत्तम प्रदेश बनाने का कार्य कर रही है। विधायक पूरनपुर ने सम्बोधित करते हुये कहा कि हमारी सरकार सबका साथ सबका विकास के आधार पर कार्य कर रही तथा बिना किसी भेदभाव के सभी वर्गो के लोगों को योजनाओ का लाभ प्रदान किया जा रहा है तथा कोरोना महामारी के दौरान सराहनीय कार्य करते हुये जरूरतमंदों तक योजनाओं का लाभ पहुंचाया गया। जिलाध्यक्ष द्वारा जिला प्रशासन व विकास विभाग द्वारा किये जा रहे कार्यों व मां गोमती उद्गम स्थल से जनपद को पहचान दिलाने के सम्बन्ध में किये गये कार्यों की सराहना करते हुये पूरी टीम को बधाई दी गई। कार्यक्रम के दौरान विभिन्न विद्यालयों के बच्चों के द्वारा आत्मनिर्भर भारत, महिला सशक्तिकरण, बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं, पर्यावरण संरक्षण के सम्बन्ध में मनमोहक गीत, नृत्य नाटक प्रस्तुत कर लोगों को संदेश दिया गया।कार्यक्रम में पशुपालन विभाग, खादी ग्रामोद्योग, कृषि विभाग, गन्ना विभाग, बाल विकास, श्रम विभाग, सेवायोजना, कौशल विकास मिशन, मत्स्य विभाग, बेसिक शिक्षा विभाग सहित आदि विभागों द्वारा स्टाल लगाकर अपने अपने यहां संचालित योजनाओं का प्रचार प्रसार किया गया। कार्यक्रम के दौरान मुख्य विकास अधिकारी, अपर जिलाधिकारी (वि./रा.), अपर जिलाधिकारी (न्यायिक), नगर मजिस्ट्रेट जिला विकास अधिकारी, बेसिक शिक्षा अधिकारी, उप निदेशक कृषि, जिला कृषि अधिकारी सहित अन्य अधिकारीगण एवं ओमवीर सह विभाग प्रचारक व ओमप्रकाश संघ संचालक उपस्थित रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!