पेड़ से लटक कर अधेड़ ने समाप्त की इहलीला, हड़कम्प

धर्मेन्द्र गुप्ता (संवाददाता)

विंढमगंज । स्थानीय थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम पंचायत मेदनीखाड़ में आज ईश्वर यादव (48वर्ष) पुत्र जगदेव ने अपने घर के पास खोखवानाला के समीप पलास के पेड़ में फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। सूचना पर पहुंचे थानाध्यक्ष बृजमोहन सरोज ने स्थानीय ग्राम प्रधान व ग्रामीणों की मौजूदगी में शव को उतरवा पंचनामा कराने के बाद अंत्यपरीक्षण हेतु दुद्धी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा।
मौके पर मौजूद ग्राम प्रधान रामप्रसाद यादव ने बताया कि मृतक शादी के बाद से अपने ससुराल में ही घर दामाद की तरह रह रहे थे। इनके 3 पुत्र कृष्ण मुरारी यादव, वंश गोपाल यादव, व बसंत यादव तथा एक पुत्री सरिता जिसकी शादी इन्होंने कर दी है तथा अपने तीनों पुत्रों को ये घर पर ही पर्याप्त खेती होने के कारण किसानी में लगे रहते थे तथा अपने बच्चों को पढ़ाने में ज्यादा रुचि रखते थे। ये तुनक मिजाजी की तरह रहा करते थे। वही मृतक ईश्वर यादव का पुत्र वंश गोपाल यादव ने थाने में दिए प्रार्थना पत्र में कहा है कि बीते दो-तीन दिन पूर्व घर में आपसी कलह हुआ था जिससे पिताजी काफी दुखी हो गए थे। वहीं कल शुक्रवार को घर से ही ₹2000 लेकर बाहर काम करने के लिए कह कर निकले थे। परंतु आज सुबह खोखवानाला के पास अपने ही खेत के पलास पेड़ में ना जाने किन परिस्थितियों में गमछे के सहारे फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली।

सूचना पर पहुंचे विंढ़मगंज थानाध्यक्ष बृजमोहन सरोज ने शव को ग्राम प्रधान व ग्रामीणों की मदद से उतरवाकर पंचनामा कराने के पश्चात अंत्य परीक्षण हेतु दुद्धी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा। इस घटना से घर में महिलाओं का रो-रो कर बुरा हाल है। घटना की खबर गांव में आग की तरह फैल गई, जिससे सैकड़ों की तादात में लोग घटनास्थल पर एकत्रित हो गए।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!