तंडाव वेब सीरीज को लेकर विवाद, डिप्टी सीएम केशव मौर्य ने कहा- तांडव वेब सीरीज से लोगों की भावनाएं हुई आहत

तंडाव वेब सीरीज को लेकर विवाद बढ़ता ही जा रहा है । तांडव टीम ने भले ही माफी मांग ली हो लेकिन इस वेब सीरीज के खिलाफ देशभर के कई राज्यों में विरोध हो रहा है । उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि तांडव वेब सीरीज से लोगों की भावनाएं आहत हुई हैं। यह टुकड़े-टुकड़े गैंग की सोची समझी साजिश है । दोषियों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। उधर, महाराष्ट्र बीजेपी के नेता राम कदम ने भी विवादित बयान दिया है । मध्य प्रदेश के जबलपुर में भी तांडव के खिलाफ केस दर्ज कराया गया है ।

बीजेपी नेता राम कदम ने ट्विटर पर लिखा है, तांडव वेब सीरीज में विवाद के बाद भले ही बदलाव किए जा रहे हैं पर जब तक बदमाशों को जेल नहीं भेजते हमारा तांडव रुकेगा नहीं । लगभग 4 दिन होने को आए महाराष्ट्र की सरकार FIR दर्ज नहीं कर रही हैं । वे देवताओं को अपमानित करने वालों को बचा रही है। हमारा संघर्ष जारी रहेगा। इन्हे लातों से भरे चौक में सबक सिखाना होगा, अब हिन्दू भाई संयम नहीं बरतेगा ।

इससे पहले बीजेपी के राम कदम समेत कई नेताओं को मुंबई पुलिस ने प्रदर्शन के दौरान हिरासत में ले लिया था । ये लोग वेब सीरीज तांडव के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे । राम कदम भूख हड़ताल पर बैठे थे और उनका कहना था कि महाराष्ट्र पुलिस उद्धव ठाकरे सरकार के दबाव के चलते तीन दिन से एफआईआर नहीं दर्ज कर रही है।

वहीं, महाराष्ट्र पुलिस का कहना है कि वह इस मामले में एफआईआर दर्ज करने को लेकर कानूनी राय ले रही हैं । उन्होंने राम कदम से भी कहा था कि एफआईआर दर्ज करने के लिए उन्हें थोड़ा वक्त चाहिए । राम कदम का कहना था कि उन्हें महाराष्ट्र पुलिस पर भरोसा है लेकिन महाराष्ट्र सरकार पुलिस पर कार्रवाई ना करने का दबाव बना रही है ।

उधर, तांडव वेब सीरीज विवाद पर करणी सेना ने भी बयान दिया है । करणी सेना के प्रमुख सूरजपाल अम्मू ने कहा कि इस विवाद को लेकर वो अमेज़न प्राइम की सीरीज तांडव के खिलाफ महातांडव मचाएंगे। उन्होंने कहा कि ,”हमारे देवी देवताओं का मजाक उड़ाना हम बर्दाश्त नहीं करेंगे । अम्मू ने कहा कि इन लोगों को हिंदू धर्म का मजाक उड़ाने का पैसा मिलता है। इन्हें चाहे दाउद से या आतंकी संगठनों से पैसा मिलता हो । ये लोग अपने धर्म का मजाक बनाएं। हम भी पैगंबर पर सीरीज बनाएंगे तब तो तुरंत फतवा जारी हो जाएगा ।”

अम्मू ने आगे कहा कि, ”मेरी सरकार से अपील है कि यह अमेज़न सीरीज तांडव को बैन किया जाए । इस तरह की वेब सीरीज की स्क्रीनिंग नहीं होनी चाहिए । इसके लिए एक सेंसर बोर्ड होना चाहिए जो इस पर नियंत्रण रखें । सैफ अली खान अपने परिवार पर पिक्चर बनाए किस तरह से अंग्रेजों से डरते थे।’

तांडव वेब सीरीज के खिलाफ जबलपुर में मध्य प्रदेश की पहली एफआईआर दर्ज की गई है । जबलपुर में हिंदू सेवा परिषद ने वेब सीरीज तांडव में धार्मिक भावनाओं को आहत किए जाने की शिकायत ओमती पुलिस थाने में दी थी, जिसके बाद पुलिस ने कानूनी सलाह लेने के बाद एफआईआर दर्ज कर ली है ।पुलिस ने तांडव के डायरेक्टर अली अब्बास और लेखक गौरव सोलंकी सहित अन्य कलाकारों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। तांडव के डायरेक्टर, लेखक सहित अन्य कलाकारों के खिलाफ आईपीसी की धारा 153 ए, 295 और 505 के तहत मामला दर्ज किया गया है ।एएसपी सिटी अमित कुमार के मुताबिक मामले की जांच शुरु की जा रही है जिसमें पुलिस सभी आरोपियो के खिलाफ वैधानिक कार्रवाई करेगी ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!