ठंड से लोगों का जनजीवन अस्त-व्यस्त

संजीव कुमार पांडेय (संवाददाता)

राजगढ़ । एक सप्ताह से लगातार बढ़ी गलन व ठंड से लोगों का जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। मानव के अलावा पशु पक्षी भी ठंड से परेशान हो गए हैं। रात दस बजे के बाद से ही कोहरा शुरू हो जाता है और सुबह तक कोहरे की चादर ओढ़े रहने के कारण सड़कों पर वाहन रेंगते हुए नजर आते हैं। दो दिन से भगवान सूर्य के दर्शन न दिए जाने के कारण लोग काफी परेशान रहे। सोमवार को दोपहर बाद जब भगवान सूर्य ने दर्शन दिए तो लोग धूप लेने के लिए परिवार के लोग घर के छतों पर पहुंच गए ओर व दुकानों से बाहर दुकानदार व अन्य लोग निकल आए और ठंड से कुछ राहत महसूस किया, लेकिन शाम ढलते ही लोग फिर घरों में दुबकने को विवश हुए। गलन व ठंड के चलते सड़कों पर सन्नाटा पसरने लगा और कोहरा फैलने लगा।
पहाड़ों पर लगातार हो रही बर्फबारी से जिले में ठंड व गलन के साथ बर्फीली हवाओं ने अपना डेरा जमा लिया है। इसके चलते लोगों की दिनचर्या पर प्रभाव पड़ रहा है और लोग सुबह देर से बिस्तर छोड़ रहे है। ठंड के चलते ट्रेन, प्राइवेट व सरकारी बसों में यात्रियों की भीड़ कम रही।
राजगढ़, ददरा, पटेल नगर बाजारों में ठंड के कारण लोगों की भीड़ कम रही। लोग ठंड से बचने के लिए अलाव या रूम हीटर का सहारा लेते हैं। हालांकि अत्यधिक परेशानी गरीब तबके के लोगों को हो रही है। पशु-पक्षी भी सुरक्षित स्थानों की खोज में भटकने को विवश है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!