अंत्योदय कार्ड का लाभार्थी क्यों काट रहा पांच वर्षों से चक्कर, पढ़ें पूरी खबर

संजय केसरी (संवाददाता)

डाला। चोपन विकास खण्ड के कोटा ग्राम पंचायत के कोटा खास का एक अंत्योदय कार्ड लाभार्थी अपनी माता के मृत्यु के पश्चात नाम परिवर्तन को लेकर विगत पाँच वर्षों से अधिकारियों का चक्कर काट रहा हैं।

कोटा खास निवासी राजेश कुमार भारती पुत्र स्व.रामलखन जो कि अन्त्तयोदय कार्ड का लाभार्थी है। जिसने बताया कि उसकी माता मुन्नी देवी की मृत्यु 12 जनवरी 2016 को हुआ था, और मृत्यु के कुछ दिनो के बाद ही क्षेत्र के सम्बंधित सरकारी सस्ते गल्ले के विक्रेता से उसने सम्पर्क कर मृत्यु हो चुकी माता का नाम राशन कार्ड से कटवाने के लिए कहा था।लेकिन नहीं कटा।इसके बाद भी उसने कई बार माता का नाम काटने की बात कही।लेकिन केवल आश्वासन ही मिला।उस समय कोटा ग्राम पंचायत में सचिव रहे विमलेश चौबे से भी मृतक मुन्नी देवी का नाम राशन कार्ड से कटवाने की गुहार लगाया।जिसके लिए दिए गये प्रार्थना पत्र पर सचिव द्वारा अपनी आख्या रिपोर्ट भी लगाया गया।इसके बाद भी मृतक का नाम राशन कार्ड से नहीं काटा गया।उसने बताया कि मृतक का नाम कटवाने के लिए मृत्यु प्रमाण पत्र व अन्य आवश्ययक कागजात लेकर ब्लाक के अधिकारियो से गुहार लगाया ।लेकिन मृतक का नाम आज तक राशन कार्ड से नहीं कट सका है।विभाग के सम्बंधित अधिकारियो के द्वारा समस्या का समाधान न करने से हतास व निराश है।30 हजार से अधिक की जनसंख्या वाले कोटा ग्राम पंचायत में आज भी कई ऐसे गरीब हैं।जिनके पास राशन कार्ड तक नहीं है।सरकार द्वारा बार-बार जारी होते दिशानिर्देश में सम्बंधित विभाग को निर्देशित किया जाता है कि मृतको का नाम राशन कार्ड से काट दिया जाए।इसके बाद भी सरकार के दिशानिर्देश का अनदेखी किया जाता रहा है।
राजेश कुमार भारती ने बताया कि हमारा कार्ड लाल वाला है। जिसमे हमारे परिवार में माता जी के साथ 6(छः) यूनिट का कार्ड बना है। पूरे लॉक डाउन में पैसे से मिला राशन लाल कार्ड के अनुसार 35 किलो मिलता था और जो राशन फ्री वाला मिलता था उसमें मात्र 10 किलो ही राशन मिलता था। जब कि प्रत्येक यूनिट पर पांच किलो के हिसाब से राशन मिलना चाहिए था।
इस सन्दर्भ में आपूर्ती विभाग के सप्लाई इंस्पेक्टर अरूण प्रकाश यादव ने बताया कि मामला हमारे संज्ञान में नही है।सूचना मिली है ।जिसकी जांच कर कार्यवाही किया जाएगा ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!