क्या बिहार में सब कुछ ठीकठाक नहीं चल रहा, जोड़तोड़ की राजनीति की चर्चा

बिहार में भले ही सरकार बन गई हो लेकिन यहां सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है । नीतीश बीजेपी पर निशाना साध रहे हैं तो राष्ट्रीय जनता दल जेडीयू को तोड़ने का दावा कर रही है । इसी सिलसिले में अब बिहार बीजेपी के प्रभारी भूपेंद्र यादव ने नया दावा किया है। भूपेंद्र यादव ने तेजस्वी यादव को कहा है कि मकर संक्रांति के बाद वह अपनी पार्टी को बचा सकें तो बचा लें वरना उनकी पार्टी में टूट होना तय है ।

भूपेंद्र यादव ने कहा कि आरजेडी में लालू के परिवारवाद से नेताओं में बौखलाहट है । उन्होंने दावा किया कि संक्रांति के बाद उनकी पार्टी टूट से नहीं बच पाएगी । भूपेंद्र यादव रविवार को पटना जिला कार्यसमिति की बैठक के अंतिम सत्र को संबोधित कर रहे थे।

भूपेंद्र यादव की चुनौती का जवाब देने के लिए आरजेडी की तरफ से पार्टी प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी सामने आए और भूपेंद्र यादव की चेतावनी को महज गीदड़ भभकी बताया ।

मृत्युंजय तिवारी ने कहा, “हमारी चुनौती है भाजपा को, बिहार में अगर सरकार को बचा सके तो बचा ले । भाजपा ज्यादा छटपट करेगी तो खरमास में ही आरजेडी खेल कर देगी और भाजपा को तहस-नहस कर देगी । यह आरजेडी की तरफ से खुली चुनौती है ।”

मृत्युंजय तिवारी ने भूपेंद्र यादव से सवाल पूछा कि वह आखिर बिहार में 19 लाख रोजगार सृजन, ध्वस्त कानून व्यवस्था और बढ़ते अपराध के मुद्दे पर वह अपनी बात क्यों नहीं कहते हैं ?

मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि भूपेंद्र यादव का आरजेडी को बर्बाद करने का सपना सपना ही रह जाएगा और इससे पहले ही बीजेपी बर्बाद हो जाएगी ।

बता दें कि इन दिनों बिहार में पक्ष विपक्ष के बीच में जुबानी जंग लड़ी जा रही है । यहां दोनों तरफ से यह दावा किया जा रहा है कि 14 जनवरी यानी कि मकर संक्रांति के बाद बिहार में बड़ा उलटफेर होगा । इससे पहले आरजेडी नेता श्याम रजक ने दावा किया था कि जेडीयू के 17 विधायक RJD में आने को तैयार हैं ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!