धान तौल नहीं होने से मायूस होकर किसान ने फसल में लगाई आग, तब जागे अफसर

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । एक तरफ सरकार न्यूनतम समर्थन मूल्य पर शत प्रतिशत धान खरीदने का दावा कर रही है, वहीं आज साधन सहकारी समिति बहुअरा में एक अलग ही तस्वीर सामने आई। यहां रॉबर्ट्सगंज विकास खंड अंतर्गत स्थित धान खरीद केंद्र पर एक किसान ने अपनी धान के बोरें में आग लगा दी। किसान पिछले कई दिनों से धान के बिकने का इंतजार कर रहा था। घटना के बाद इसके बाद केंद्र पर अफरा तफरी मच गई। आनन-फानन में अन्य किसानों ने आग बुझाई। इसके बाद उसके फसल की तौल शुरू तो हुई लेकिन एक बार फिर बोरा समाप्त होने की बात कहकर उक्त किसान के धान की तौल रोक दी गयी।

रॉबर्ट्सगंज विकास खंड क्षेत्र के हिनौता निवासी किसान तेजबली यादव एक सप्ताह पूर्व अपना धान लेकर साधन सहकारी समिति बहुअरा पहुंचा था लेकिन, 7 दिन बीत जाने के बाद भी उसका नंबर नहीं आया। आज उसने केंद्र पर मौजूद कर्मचारियों से तौल करने की मिन्नतें की, लेकिन कर्मचारी आनाकानी करने लगे। इससे हताश होकर किसान तेजबली यादव ने अपने धान को आग के हवाले कर दिया। यह देख मौके मौजूद अन्य किसानों ने किसी तरह आग को बुझाया। वहीं, खरीद केंद्र पर मौजूद कर्मचारियों अधिकारियों के हाथ पैर फूल गए और उन्होंने आनन-फानन में किसान वीरेंद्र को समझाते हुए उसके धान की तौल शुरू कर दी, हालांकि कुछ तौल कराने के बाद एकबार फिर बोरा खत्म होने की बात कहकर तौल रोक दी गयी।

इस घटना के बाद किसानों को लेकर सरकारी दावों की पोल खुल गयी। जिले में अन्नदाताओं ने बड़े मुश्किल से धान पैदा किया, अब बेचने में उनके पसीने छूट रहे हैं। कुछ किसानों ने तो औने-पौने दामों में स्थानीय व्यापारी के हाथों अपना धान बेच लिया है वहीं, ज्यादातर किसान एमएसपी पर धान बेचने के लिए क्रय केंद्रों पर चक्कर लगा रहे हैं जबकि धान क्रय केंद्रों पर लम्बी-लम्बी लाइनें लगी हैं। कड़ाके की ठंड में भी किसान क्रय केंद्रों के बाहर बोरी-बिस्तर लिए अपना डेरा जमाये हैं।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!