पीडब्ल्यूडी के जेई की लापरवाही से सड़क व रिंग वाल अधूरी, ग्रामीणों में आक्रोश

रमेश यादव (संवाददाता)

– कब तक पूरा होगा पूछने पर जेई ने कर दिया मोबाइल ऑफ

दुद्धी । ब्लॉक क्षेत्र के टेढ़ा गांव में पीडब्ल्यूडी द्वारा अधूरी सड़क छोड़े जाने को लेकर ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त है। इस अधूरी सड़क को पूरा कराने के लिए ग्रामीणों ने सम्बंधित जे ई और ठेकेदार से कई बार गुहार लगा चुके हैं लेकिन अभी तक पिपरहवा टोला सड़क निर्माण पूर्ण नही होने से काफी आक्रोश है।
ग्रामीण अवधेश, बृजेश, उमेश, लवकुश,रमेश, सत्यनारायण सहित अन्य लोगों ने आरोप लगाया है कि पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों की मिलीभगत से उक्त सड़क का पैसा निकाल लिया गया है लेकिन सड़क अभी भी करीब 100 मीटर के आसपास अधूरी पड़ी है जिससे राहगीरों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ग्रामीणों ने बताया कि वर्ष 2016 – 17 में पीडब्ल्यूडी द्वारा पिपरहवा टोला से निमियाडीह सम्पर्क मार्ग सड़क का निर्माण शुरू हुआ था। शुरुआत में काफी प्रयास के बाद सड़क निर्माण तो शुरू हुआ लेकिन आज तक पूर्ण नही हो सका है जिसे लेकर ग्रामीणों में आक्रोश पनप रहा है।ग्रामीणों ने पीडब्ल्यूडी की अधूरी सड़क की ओर जिलाधिकारी का ध्यान आकृष्ट कराया है।

इस सम्बंध में पीडब्ल्यूडी के जेई रमाशंकर ने गैर जिम्मेदाराना बयान देते हुए कहा कि सड़क पूरा करा दिया जाएगा लेकिन कब तक के सवाल पर बचते हुए फोन काट दिया।

अब सवाल ये उठता है कि आखिर पीडब्ल्यूडी द्वारा सड़क जनता के सहूनियत के लिए बनाया जाता है लेकिन जिस तरह से जेई की मनमानी की वजह से कार्य अपूर्ण है और कब तक बनेगा यह निश्चित नहीं है इससे तो साफ हैं कि सरकार भले ही जनता के लिए योजनाएं भेजती है लेकिन अधिकारी किस तरह से योजनाओं के साथ मनमानी करते है यह यहां साफ देखा जा सकता है ।

बहरहाल जेई साहेब को सोचना चाहिए कि सवाल पूछे जाने पर फोन लाफ़ करने से पीछा छूटने वाला नहीं, काम तो उन्हें ही करना होगा और समय पर क्योंकि यह जनता से जुड़ा मसला है, किसी की व्यक्तिगत सड़क नहीं ।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!