विद्युत विभाग के विरुद्ध पत्रकार संगठनों व किसान यूनियन ने दिया धरना

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

पीलीभीत। पूरनपूर क्षेत्र में भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने वाले एक एसोसिएट्स फर्म को ब्लैक लिस्टेड करने की मांग उठायी गयी ।
जनहित को लेकर मीडिया कर्मी द्वारा उठाई गई मांग से तत्कालीन जिलाधिकारी के निर्देशों पर मौके पर पहुंचे तत्कालीन उपजिलाधिकारी सहित रेलवे विभाग के कई जिम्मेदारों ने सहमति जताते हुए प्रस्तावित नक्शे पर हस्ताक्षर कर शीघ्र ही विद्युत हाईटेंशन लाइन को स्थानांतरित करने का भरोसा दिलाया था। परंतु जिलाधिकारी व उप जिला अधिकारी का स्थानांतरण होने के बाद लंबा समय गुजारने के बाद विद्युत विभाग के अधिशासी अभियंता हाईटेंशन लाइन हटाने के लिए किए गए अपने ही वायदे से मुकर गए। जिससे नाराज कई पत्रकार संगठनों ने ऊर्जा मंत्री को संबोधित एक ज्ञापन उपजिलाधिकारी की गैरमौजूदगी में नायब तहसीलदार को सौंपा गया है।
ज्ञापन के माध्यम से बताया गया है कि 5 दिन में समस्या का समाधान ना होने पर अधिशासी अभियंता कार्यालय के सम्मुख धरना प्रदर्शन शुरू करने की बात कही गई है।
जिसमें पत्रकारों के साथ किसान संगठनों व सपा, कांग्रेस सहित कई पार्टियों के नेताओं ने पहुंचकर समर्थन दिया। धरना प्रदर्शन में अधिशासी अभियंता एसडीओ को हटाने सहित एक एसोसिएट फर्म को ब्लैक लिस्टेड करने की मांग की गई।
विदित हो कि विद्युत उप खंड पूरनपुर डिवीजन अधिकारी (अधिशासी अभियंता वितरण) ग्राम पंचायत पूरनपुर देहात निवासी मीडिया कर्मी नाजिम खान पुत्र बाबू खान से द्वेष भावना रखते हैं। आरोप है कि इसी के चलते मीडिया कर्मी के परिवार को कई बार जानमाल की क्षति पहुंचाने की सुनियोजित योजना के अंतर्गत उक्त अधिकारी ने अपने चहेते ठेकेदार के माध्यम से ताना-बाना बुना, लेकिन वह हर बार असफल रहे। परंतु मीडिया कर्मी नाजिम खान व उसके परिजनों को जान-माल की क्षति की आशंका लगातार अब भी बरकरार है।
बताते चलें कि मीडिया कर्मी नाजिम खान द्वारा पत्रकार संगठनों के कई साथियों को जब इस बाबत जानकारी दी गई तो गत 28 दिसंबर 2020 को दर्जनों पत्रकारों ने ऊर्जा मंत्री उत्तर प्रदेश शासन लखनऊ को संबोधित एक ज्ञापन उपजिलाधिकारी पूरनपुर राजेंद्र प्रसाद की गैरमौजूदगी में नायब तहसीलदार को सौंप समस्या का समाधान कराए जाने की मांग की थी साथ ही अन्यथा की स्थिति में समस्त मीडिया संगठनों के पत्रकारों द्वारा विद्युत डिवीजन कार्यालय पर धरना प्रदर्शन किए जाने की भी चेतावनी दी गई थी। परंतु उक्त ज्ञापन का अभी तक ऊर्जा मंत्री द्वारा और ना ही किसी अधिकारी द्वारा संज्ञान लेते हुए समस्या का समाधान नही कराया गया। जिससे नाराज़ मीडिया कर्मियों ने नाजिम खान की जनहित में उठायी गयी समस्या का स्थाई निदान ना होने तक अधिशासी अभियंता (वितरण) केेेे कार्यालय के सम्मुख धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया। इस दौरान पत्रकारों द्वारा विद्युत विभाग की जनविरोधी कारगुजारियों के विरुद्ध पत्रकार संगठनों के समर्थन में किसान संगठनों सपा कांग्रेस सहित कई पार्टियों के कार्यकर्ताओं ने पहुंचकर समर्थन दिया धरना स्थल पर अधिशासी अभियंता व एसडीओ को पूरनपुर से हटाए जाने सहित एक एसोसिएट फर्म को ब्लैक लिस्टेड किए जाने की पुरजोर मांग की गई।
समस्या का समाधान ना होने पर अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन जारी रखने का निर्णय लिया।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!