कोरोना के नाम रहा 2020, नई उम्मीद के साथ नए वर्ष की सुबह का लोगों ने किया स्वागत

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । कोरोना से जूझते वर्ष 2020 बीत गया। मगर, नववर्ष का आयोजन भी कोरोना के साये के बीच फीका ही रहेगा। नव वर्ष पर हर बार मनाए जाने वाले जश्न का मजा इस बार कोरोना के कारण किरकिरा हो चुका है। कोरोना के साए में इस बार नव वर्ष का स्वागत शांतिपूर्वक होगा। इस बार ना तो आतिशबाजी का शोर सुनाई देगा और ना ही सडक़ों पर हो हुल्लड़ देखने को मिल सकेगा। लोगों को नववर्ष इस बार घर में रह कर ही स्वागत करना पड़ेगा। जिलाधिकारी ने जिले में 31 मार्च तक के लिए धारा-144 लागू कर दिया है। कोरोना काल को दरकिनार पिकनिक स्पॉट पर भारी भीड़ देखने को मिला।

मंदिरों में पूजा के लिए लगी रही भीड़

नववर्ष को लेकर सुबह से ही मंदिरों में श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी। शहर के शीतला मंदिर, संकटमोचन मंदिर सहित आरटीएस क्लब में आयोजित श्री रामचरित मानस नवाह्न पाठ में भी पूजन को श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी। इस दौरान लोगों ने अपनी मंगल जीवन की कामना व नववर्ष को बेहतर करने को प्रार्थना किया।

पिकनिक स्पॉट रहे गुलजार

नया साल में युवाओं की टोली विभिन्न पिकनिक स्पॉट पर सुबह पहुंच गए। डीजे साउंड के साथ युवाओं की टोली शहर के विभिन्न इलाकों में गानों के साथ झूमते दिखे। पिकनिक स्पॉट के अलावा शहर के रेस्तराओं में सपरिवार बड़ी संख्या में लोग पहुंचकर स्वादिष्ट भोजन का आनंद उठाते रहे।

सोशल मीडिया में चला बधाइयों का दौरा

नववर्ष को लेकर बधाइयों का तांता मध्य रात से शुरू हो गया। सभी अपने दोस्तों व ईष्ट को मोबाइल के माध्यम से मैसेज कर व व्हाट्सएप से बधाई देते रहे। कोई फोन पर तो कोई पिक्चर भेजकर बधाई देते रहे। नया साल हर लोगों ने उत्साह व उल्लास के बीच मनाया।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!