नौ दिवसीय सवा लाख पार्थिव शिवलिंग के महा अनुष्ठान का समापन

संजय केसरी (संवाददाता)

डाला । हाथीनाला थाना स्थित पंचमुखी हनुमान मंदिर पर हो रहे राम जन्मभूमि मन्दिर विजयोत्सव के उपलक्ष्य में सवा लाख पार्थिव शिवलिंगों के नौ दिवसीय महा अनुष्ठान में हिमाचल प्रदेश के भारत-चीन बार्डर स्थित आश्रम से आए महामंगलेश्वर सेवा दास के दर्शन के लिए संतो एवं लोगों का आगमन लगा रहा । अनुष्ठान के यजमान भूपेश चौबे के द्वारा प्रतिदिन भगवान शिवशंकर भोलेनाथ की पूजा अर्चना की जाती रही हैं। नौ दिवसीय अनुष्ठान में आए महंगलेश्वर सेवा दास महाराज ने बताया कि अयोध्या राम मंदिर निर्माण व श्रीराम मंदिर विजयोत्सव पर देश मे पहली बार गुप्तकाशी के हाथीनाला पंचमुखी हनुमान जी मन्दिर के प्रांगण में कराया गया हैं।

हाथीनाला पंचमुखी हनुमान मंदिर पर स्वामी दिलीप दास त्यागी महाराज जी श्रीराम मंदिर वैदेही, अयोध्या के नेतृत्व में दिनों में प्रत्येक दिनों सवा लाख पार्थिव शिवलिंगों का पर अलग-अलग औषधियों से रुद्राभिषेक कराया गया। नौ दिवसीय सवा लाख पार्थिव शिवलिंग रुद्राभिषेक अनुष्ठान पर विधि विधान से यज्ञ की हवन कर पूर्णाहुति की, चतुर्थ हवन कुंड में बेल, गुग्गुल, कमलगट्टा, इंद्र जौइत्यादि सामग्रियों से हवन की गई ।

श्री-श्री 108 महंत हरिनारायण दास जी महाराज पंचमुखी हनुमान मंदिर हाथीनाला के प्रमुख पुजारी ने बताया कि बृहस्पतिवार को 31 विशाल भंडारा का आयोजन किया जाएगा। इस दौरान नित्य सरयू महाआरती के अध्यक्ष महंत शशिकांत दास जी, अखिल भारतीय पंच श्री निर्वाणी अखाड़ा के महंत श्री धर्मदास जी, ओबरा शनि मंदिर के शनि देव महाराज जी, ओबरा गायत्री शक्तिपीठ के मुख व्यवस्थापक मनमोहन शुक्ला, पूर्व विधायक तीरथराज, पूर्व सीएमओ पी.के. उपाध्याय,मानस तिवारी, वरिष्ठ भाजपा नेता संजीव उर्फ संजू त्रिपाठी, रवि जालान, महंत मुरली तिवारी, राजकुमार तिवारी, अरविंद सिंह, सुरेश केसरी, रामनाथ तिवारी, हीरामणि तिवारी, मोनू, रमेश रॉय, विजय वैश्य समेत सैकड़ों लोग मौजूद रहे।

प्रतिदिन इन शिवलिंगों की होती रही पूजा

गुजरात (सौराष्ट्र) प्रदेश के काठियावाड में श्रीसोमनाथ, श्रीशैल पर श्रीमल्लिकार्जुन,उज्जैन में श्रीमहाकाल, ॐकारेश्वर अथवा ममलेश्वर, परली में वैद्यनाथ, डाकिनी नामक स्थान में श्रीभीमशंकर, सेतुबंध पर श्री रामेश्वर, दारुकावन में श्रीनागेश्वर, वाराणसी काशी में श्री विश्वनाथ, गौतमी गोदावरीके तट पर श्री त्र्यम्बकेश्वर, हिमालय पर केदारखंड में श्रीकेदारनाथ और शिवालय में श्रीघृष्णेश्वर।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!