हर हाल में 72 घंटे में करें धान खरीदी का भुगतान : मो0 मुस्तफा

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । श्रम आयुक्त तथा शासन द्वारा नामित सोनभद्र जिले के नोडल अधिकारी मोहम्मद मुस्तफा उत्तर प्रदेश ने सोनभद्र जिले के दौरा किया। उन्होंने विकास कार्यक्रमों, जनकल्याणकारी योजनाओं व लाभार्थीपरक कार्यों की कलेक्ट्रेट मीटिंग हाल में विस्तार से समीक्षा की। नोडल अधिकारी मोहम्मद मुस्तफा ने कहा कि अभी कोरोना का संक्रमण टला नहीं है, लिहाजा पूरी होशियारी के साथ संक्रमण से बचाव करते हुए कार्य करें। उन्होंने कहा कि सामाजिक दूरी, फेसकवर/मास्क का प्रयोग व बार-बार साबुन पानी से हाथ धोने की अपील करते हुए कहा कि संक्रमण से बचाव होशियारी है, लिहाजा बचाव करते हुए आवश्यक सुविधाएं प्रदान की जाय।

उन्होंने किसानों की धान खरीद, नहरों के संचालन, जिले में रैक प्वाइंट, बिजली व्यवस्था, सोनलिफ्ट कैनाल का संचालन, नहरों का साफ-सफाई, बागवानी, सब्जी-भाजी की खेती-बारी, बर्षा के जल का संचयन, बन्धियों में पानी की क्षमता, प्रधानमंत्री फसल योजना, प्रधानमंत्री सिंचाई, कृषि उद्यान योजना, वरासत अभियान किसानों के भलाई के लिए चलायी जा रही अन्य सभी योजनाओं के सभी पहलुओं की समीक्षा करते हुए कहा कि वर्तमान में किसान भाईयों को लम्बी लाईन लगाकर धान बेचने की समस्या का समाधान किया जाय। हर हाल में किसानों की धान के उपज को खरीदते हुए 72 घंटे के अन्दर भुगतान की कार्यवाही सुनिश्चित किया जाय।

उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण, मुख्यमंत्री आवास योजना, महात्मा गॉधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारण्टी योजना की प्रगति, मानव दिवस का सृजन, भुगतान की स्थिति, विकास खण्डवार व ग्राम पंचायतवार, स्थानीय स्तर पर मनरेगा से दिये गये रोजगार व उनके भुगतान की स्थिति, मनरेगा के तहत एक गांव-एक बाग की विकास खण्डवार व ग्राम पंचायत वार बागवानी के लिए कराये गये कार्यों की स्थिति, मनरेगा के लम्बित भुगतान मे तेजी लाये जाने के सम्बन्ध में समीक्षा, ईज ऑफ लेविग सर्वे की प्रगति की समीक्षा, जिले में राज्य/राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल व अन्य कार्यक्रमों की प्रगति की समीक्षा, पं0 दीनदयाल अन्त्योदय योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन-उत्तर प्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन, सोनभद्र के उत्पादों की स्थिति, सक्रिय स्वयं सहायता समूहों की स्थिति, बेहतर उत्पादों को मार्केटिंग मुहैया कराने की स्थिति, स्वयं सहायता समूह से जुड़े परिवारों की स्थिति, रिवाल्विंग फण्ड प्राप्त, स्वयं सहायता समूहों की स्थिति, सामुदायिक निवेश निधि प्राप्त, स्वयं सहायता समूहों की स्थिति, सीसीएल हुए स्वयं सहायता समूहों की स्थिति, गठित ग्राम संगठनों की स्थिति, फार्म मशीनरी बैंकों की स्थिति, कस्टम हायरिंग सेन्टर, आजीविका ग्रामीण एक्सप्रेस योजना, जन शिकायतों का निस्तारण, कानून व्यवस्था आदि की तफसील से समीक्षा की और सम्बन्धितों को आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए समयबद्ध तरीके से योजनाओं को पूरा करते हुए जिले को पिछड़ेपन की श्रेणी से बाहर लाने के निर्देश दिया।

समीक्षा बैठक में नोडल अधिकारी मोहम्मद मुस्तफा के अलावा जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम, मुख्य विकास अधिकारी डा0 अमित पाल शर्मा, अपर जिलाधिकारी योगेन्द्र बहादुर सिंह, उप जिलाधिकारी सदर डा0 कृपा शंकर पाण्डेय, अपर श्रमायुक्त सरजूराम, जिला विकास अधिकारी रामबाबू त्रिपाठी, जिला अर्थ एवं सख्या अधिकारी ओ0पी0 यादव, सम्बन्धित अधिकारीगण मौजूद रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!