कलेक्ट्रेट सभागार में नोडल अधिकारी ने की अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक।

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

पीलीभीत । रविवार को शासन के निर्देश पर जिले के नोडल अधिकारी अपर मुख्य सचिव श्रम एवं सेवायोजन विभाग उत्तर प्रदेश शासन सुरेश चंद्रा तीन दिवसीय भ्रमण कार्यक्रम हेतु जनपद पीलीभीत पहुंचे।
भ्रमण कार्यक्रम के दौरान प्रथम दिन नोडल अधिकारी द्वारा कलेक्ट्रेट सभागार में धान खरीद, गन्ना क्रय केंद्र, निराश्रित गोवंश, कोविड-19 वैक्सीनेशन,नहरों में पानी की उपलब्धता,विद्युत आपूर्ति व किसानों से संवाद पर बिंदुवार समीक्षा बैठक की गयी एवं संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

आयोजित बैठक में नोडल अधिकारी ने जिले में हुई धान खरीद की समीक्षा के दौरान अद्यतन स्थिति के संबंध में जानकारी देते हुए डिप्टी आरएमओ ने बताया कि धान खरीद के लिए जिले में कुल 95 क्रय केंद्र पर खरीद अभी की जा रही है और जिनके माध्यम से जिले के 58900 पंजीकृत किसानों से अब तक 29 लाख 57 हजार कुंतल धान की खरीद की गई। नोडल अधिकारी ने लक्ष्य के सापेक्ष धान क्रय की अद्यतन स्थिति, मिलर्स को धान की डिलीवरी, केंद्र पर अवशेष धान, डिलीवरी धान पर देय चावल, कृषकों को देय व अवशेष भुगतान के संबंध में बिंदुवार जानकारी हासिल की। उन्होंने डिप्टी आरएमओ से कृषकों के भुगतान समय पर करने हेतु निर्देशित किया गया।

न्ना क्रय केंद्रों की समीक्षा के दौरान डीसीओ ने बताया कि जिले में 193 गन्ना क्रय केंद्र क्रियाशील है। नोडल अधिकारी ने चीनी मिल वार गन्ना मूल्य भुगतान की अद्यतन स्थिति जानी। निराश्रित गोवंश आश्रय स्थलों की समीक्षा के दौरान मुख्य पशु चिकित्सा ने बताया कि ज़िले में निराश्रित गोवंश का संरक्षण किया जा रहा है। जिले में अब तक 22 गो-आश्रय स्थल क्रियाशील है। उन्होंने पशुओं के टीकाकरण करने के साथ-साथ समस्त गौशालाओं में गोवंश हेतु पर्याप्त चारा व अन्य व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने हेतु निर्देशित किया गया।
नोडल अधिकारी ने जिले में कोविड-19 वैक्सीनेशन तैयारियों के संबंध में कोल्ड चैन संबंधी व्यवस्थाएं, कोविड पोर्टल संबंधी डाटा अपलोडिंग, प्रशिक्षण तथा हेल्थ केयर वर्कर डाटा अपलोड किए जाने के संबंध में जिला स्तर पर किए गए कार्यों की समीक्षा की एवं संबंधित को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। सीएमओ ने जिले में अब तक वैक्सीनेशन के संबंध में की गई तैयारियों के संबंध में बिंदुवार जानकारी दी। इसी के साथ प्रतिदिन कोविन पोर्टल को भी अपडेट किया जा रहा है। स्वास्थ विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की समीक्षा के दौरान नोडल अधिकारी द्वारा जनपद में शत-प्रतिशत टीकाकरण करने के साथ-साथ आयुष्मान योजना के अंतर्गत पंजीकृत अस्पतालों की सूची प्रत्येक सीएससी पीएससी व तहसील पर लगाने के निर्देश दिए गए जिससे मरीजों को संबंधित बीमारी से इलाज हेतु आवश्यक सुविधा उपलब्ध हो सके।

बैठक में नोडल अधिकारी ने नहरों में पानी की उपलब्धता विद्युत आपूर्ति, शिकायतों के निस्तारण की अद्यतन स्थिति सहित कृषकों के साथ संवाद के संबंध में आवश्यक जानकारी हासिल की एवं संबंधित को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

इसके उपरांत नोडल अधिकारी द्वारा एल एच शुगर फैक्ट्री का निरीक्षण किया गया।निरीक्षण के दौरान नोडल अधिकारी द्वारा गन्ना पर्ची निर्गत व्यवस्था का जायजा लिया गया गन्ना अधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि समस्त किसानों को एसएमएस के द्वारा पर्ची उपलब्ध कराई जा रही हैं इस दौरान उन्होंने ने उपस्थित कृषकों से बातचीत की गई तथा उनके मोबाइल में भेजी गई पर्ची की समय सीमा को देखा गया। निरीक्षण के दौरान धर्म कांटे पर तौले जा गन्ने की अद्यतन स्थिति की जांच की गई इस दौरान गन्ना अधिकारी को निर्देशित किया कि किसानों को किसी भी प्रकार की समस्या ना होने पाए तथा उनकी समस्याओं का निस्तारण प्राथमिकता के आधार पर सुनिश्चित किया जाए।
बैठक मुख्य विकास अधिकारी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, अपर जिलाधिकारी वित्त, परियोजना निदेशक, डीसी मनरेगा ,जिला विकास अधिकारी, उपनिदेशक कृषि, जिला कृषि अधिकारी सहित सभी जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!