आखिर मीडिया के सवाल पर क्यों भड़के बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री, पढ़ें पूरी खबर क

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । दो दिवसीय दौरे पर सोनभद्र आए प्रभारी मंत्री डॉ0 सतीश चंद्र द्विवेदी कलेक्ट्रेट सभागार में जनकल्याणकारी योजनाओं के साथ कानून व्यवस्था की समीक्षा बैठक करके जैसे ही बाहर निकले काफी समय से इंतजार कर रहे मिडिया कर्मियों ने उन्हें घेर लिया। पहले तो मंत्री जी व्यस्तता बताते हुए बाइट देने से मना करते रहे लेकिन मीडिया कर्मियों द्वारा कई बार कहे जाने पर समीक्षा बैठक में क्या हुआ इस पर बोलने को राजी हुए और उन्होंने समीक्षा बैठक के दौरान क्या कुछ हुआ इस बात की चर्चा मीडिया से साझा किया।

बाद में मीडियाकर्मियों ने प्रभारी मंत्री से पूछा कि दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया का कहना है कि पहले तो उत्तर प्रदेश के शिक्षा मंत्री स्कूल देखने की चुनौती देते है और जब वे स्कूल देखने लखनऊ पहुँचे तो उन्हें रोक दिया गया। इस सवाल पर पहले तो प्रभारी मंत्री ने सहजता से जवाब देते हुए कहा कि चुनौती देना, ललकारना इन सब भाषाओं का इस्तेमाल आम आदमी पार्टी ही करती है।

प्रभारी मंत्री ने बताया कि लखनऊ में एक स्मार्ट स्कूल के उद्घाटन के दौरान मीडिया ने ही सवाल पूछा था कि आम आदमी पार्टी उत्तर प्रदेश में चुनाव लड़ने की योजना बना रही है और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल का कहना है कि उत्तर प्रदेश में भी दिल्ली की तर्ज पर स्मार्ट स्कूल व मुहल्ला क्लिनिक खोला जाएगा। इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा था कि दिल्ली में 1024 स्कूल हैं जबकि उत्तर प्रदेश में 1.59 लाख।

इसके बाद प्रभारी मंत्री डॉ0 सतीश चंद्र द्विवेदी ने मीडिया के सामने वे सारे काम गिना डाले जो शिक्षा के क्षेत्र उत्तर प्रदेश सरकार कर रही है। चाहे वो कायाकल्प की योजना हो या फिर स्कूलों में नए फर्नीचर लगवाने की योजना। कायाकल्प की योजना हो, फर्नीचर लगवाने की या फिर किचन सेड या शौचालय निर्माण की। इसके बाद प्रभारी मंत्री ने कहा कि इन सब कामों को कराए जाने के बाद भी हमारी जवाबदेही उत्तर प्रदेश की जनता से है न कि किसी दूसरे प्रदेश के किसी मंत्री से है। उन्होंने कहा कि इसके लिए न तो मेरे पास समय है और न ही मेरी जवाबदेही।

बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री डॉ0 सतीश चंद्र द्विवेदी ने यहां तक कह डाला कि आम आदमी पार्टी को उत्तर प्रदेश में अपनी राजनीतिक जमीन तलाशनी है और अभी से उनके कई मुख्यमंत्री के दावेदार हो चुके हैं, जिन्हें अलग-अलग राज्यों में सपने दिखाने हैं। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी पूरे देश से सवाल पूछती है और राजनीति में कीचड़ उछालने का काम भी करती है।

जैसे-जैसे मीडिया लगातार सवाल कर रही थी मंत्री जी धीरे-धीरे नाराज दिखने लगे। मंत्री जी ने कहा कि दिल्ली के उपमुख्यमंत्री लगातार झूठ बोल रहे हैं। उन्होंने मीडिया के माध्यम से दिल्ली के मुख्यमंत्री को चुनौती दे डाली। उन्होंने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री क्या यह शपथ पत्र देंगे कि क्या दिल्ली के सभी स्कूल एसी हैं? क्या दिल्ली के सभी स्कूलों में स्वीमिंगपूल हैं?

बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री डॉ0 सतीश चंद्र द्विवेदी ने सफाई देते हुए कहा कि दिल्ली के उपमुख्यमंत्री को प्रोटोकॉल व सुरक्षा को देखते हुए रोका गया था। बावजूद इसके दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने जो वीडियो जारी किया था वह उस भवन का था जो पूरी तरह से निष्प्रयोजन था वहाँ बच्चे पढ़ते ही नहीं है। उन्होंने कहा कि दुख की बात है मैं अब तक समझता था की मनीष सिसोदिया सौम्य और विनम्र व्यक्तिव के धनी हैं लेकिन जो अहंकार उन्होंने दिखाया है ये हरकतें सिर्फ और सिर्फ आम आदमी पार्टी ही दिखा सकती है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में केजरीवाल जी की दूसरी बार सरकार बनी है वे बताएँ कि अब तक उन्होंने कितने शिक्षकों की भर्ती की है जबकि यूपी की योगी सरकार ने 1.20 लाख से अधिक शिक्षकों की भर्ती की है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!