समाधान विकास समिति विपनेट क्लब के तत्वाधान में राष्ट्रीय गणित सप्ताह का शुभारंभ

ईशान अवस्थी/सुशील कश्यप (संवाददाता)

पीलीभीत । स्थानीय सनातन धर्म बाकेबिहारी इंटर कॉलेज में गणित सप्ताह आरम्भ किया गया। समन्वयक लक्ष्मीकांत शर्मा ने बताया कि 22 दिसंबर राष्ट्रीय गणित दिवस के रूप में मनाते हैं। 22 दिसम्बर महान गणितज्ञ श्रीनिवास रामानुजन का जन्मदिन है तथा गणित में उनके योगदान का संज्ञान लेते हुए तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने 22 दिसंबर राष्ट्रीय गणित दिवस के रूप में संपूर्ण राष्ट्र में मनाने की घोषणा की। दिनांक 16 दिसंबर से 22 दिसंबर तक गणित सप्ताह का आयोजन किया जाएगा, जिसमें गणित के प्रति किशोर पीढ़ी की अभिरुचि बढ़ाने का प्रयास किया जाएगा। संरक्षक ओम प्रकाश वर्मा ने बताया कि रामानुजन विलक्षण बुद्ध के व्यक्ति थे तथा अल्पावस्था में ही रामानुजन की विचार शक्ति ऊंचाइयों को स्पर्श करने लगी। रामानुजन में बचपन में ही 0 में 0 का भाग देने की बात उठाई। किंतु सामान्यता यह कैलकुलस विभाग का प्रश्न है जिसका समावेश कालेज स्तर की पढ़ाई में होता है। दसवीं कक्षा में पढ़ते हुए उन्होंने स्नातक पाठ्यक्रम में निर्धारित त्रिकोणमिति शास्त्र का अभ्यास पूरा कर लिया तथा बाद में इस पर स्वतंत्र संशोधन भी किया। उनके द्वारा किया गया यह कार्य उनकी अलौकिक प्रतिमा का प्रमाण प्रमाण है। 1917 हिंदी में रामानुजन 7 लघु शोध प्रकाशित हुये। विभाज्य संख्याओं के लिए उन्होंने सूत्र बनाएं। विदेश में नींद, भोजन और नित्य कर्मों में लगने वाले समय को छोड़कर उनका संपूर्ण समय वाचन, मनन और लेखन में बीतता था। उन्हें गणित के उन्माद से ग्रसित, विलक्षण संशोधक कहा जाता है। इस अवसर पर प्रश्नोत्तरी का आयोजन किया गया जिसमें छात्र देव रंजन में श्रेष्ठता दिखाई इसे प्रशस्ति पत्र और पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया।कार्यक्रम के संचालन में चंद्र पाल गंगवार प्रदीप कुमार का सहयोग रहा। कार्यक्रम से गणित में चिंतन के क्लब के प्रयासों को गति मिली ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!