द्वार पूजा के समय दुल्हन ने तोड़ा वरमाला, शादी से किया इनकार, बैरंग लौटी बारात

मुकेश अग्रवाल (संवाददाता)

प्रतीकात्मक फोटो

बीजपुर । थाना क्षेत्र के नेमना गाँव से एक बारात रविवार की शाम पिंडारी गाँव के टोला संचिराडाड़ गयी थी जहाँ एक तरफ लड़की पक्ष के लोग बारात के स्वागत में लगे हुए थे तो दूसरी तरफ शहनाई बज रही थी। महिलाएं मंगल गीत गा रही थी तथा द्वार पूजा का रस्म चल रहा था। इसी बीच दूल्हे और दुल्हन को स्टेज पर जयमाला रस्म के लिए लाया गया जहाँ दोनो के हाथ मे वरमाला देकर एक दूसरे के गले मे पहनना था कि इसी बीच दुल्हन का मिजाज बिगड़ गया और आव देखा न ताव जयमाल स्टेज पर ही दुल्हन ने वरमाला तोड़ कर फेंक दिया और बुदबुदाते हुए सजे सजाये मंच से उतर कर घर के अंदर चली गयी और बारात में आए दूल्हे के साथ शादी करने से साफ इंकार कर दिया।

इस बाबत ग्राम प्रधान धीरेंद्र जायसवाल ने बताया कि “नेमना गाँव से युवक की शादी पिंडारी गाँव के टोला संचिरडाड़ निवासी व्यक्ति की बिटिया के साथ पहले से तय हुई तिथि के अनुसार रविवार को बारात आयी जहां द्वार पूजा रस्म के समय ही लड़की ने वरमाला तोड़ कर फेंक दिया और शादी करने से साफ मना कर दिया। पहले घराती और बाराती के बुजुर्ग लोग लड़की को काफ़ी समझाने की कोशिश किये लेकिन दुल्हन अपने इरादे से जरा भी टश में मश नहीं हुई और एक स्वर में शादी से इनकार कर करती रही।”

इसी बीच किसी ने पुलिस को मामले की जानकारी दी। मौके पर पहुँची बीजपुर पुलिस और ग्राम प्रधान पिंडारी धीरेंद्र जायसवाल ने लड़की को काफी समझाने की कोशिश की लेकिन बात नही बनी और दुल्हन ने शादी करने से साफ मना कर दिया। उधर दुल्हन पक्ष के लोगों ने बारात में आये लोगों का दुखी मन से खूब आदर सत्कार कर बारात को बगैर शादी के ही बैरंग वापस कर दिया।

इस बाबत प्रभारी निरीक्षक श्याम बहादुर यादव से जब जानकारी ली गयी तो उन्होने ने बताया कि लड़की को बहुत समझाने की कोशिश की गई लेकिन बात नहीं बनी। लड़की बालिग है, पुलिस जोर जबरदस्ती कर शादी नही करा सकती है।

जनचर्चा के अनुसार लड़की पहले से ही शादी से मना कर रही थी। बहरहाल सोमवार की सुबह उक्त शादी और बारात का बैरंग वापस आना जगह जगह चर्चा का विषय बना हुआ है लोग तरह तरह की बातें कर चटकारे लेते रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!