बीएसए के औचक निरीक्षण में स्कूल से नदारद मिले कई शिक्षक, 4 शिक्षकों का रोका वेतन

रमेश यादव (संवाददाता)

दुद्धी । आज बेसिक शिक्षा अधिकारी डॉ0 गोरखनाथ पटेल की आकस्मिक निरीक्षण में दुद्धी क्षेत्र के परिषदीय स्कूलों की पोल खुल गई। शनिवार होने के कारण बीएसए ने 7 स्कुलों का निरीक्षण किया, जिसमें दो अध्यापिकाओं सहित 4 अध्यापक अनुपस्थित मिले। बीएसए ने सभी अनुपस्थित अध्यपकों का तत्काल वेतन अवरुद्ध करने का आदेश दे दिया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार बेसिक शिक्षा अधिकारी की टीम ने विकास खण्ड दुद्धी के कुल 07 विद्यालयों क्रमशः प्रा0वि0बहेराडोल, उ0प्रा0वि0 बहेराडोल, कंपोजिट विद्यालय खोखा, कंपोजिट विद्यालय दुम्हान, कंपोजिट विद्यालय कादल, प्रा0वि0 झारोकला, उ0प्रा0वि0 झारोकला का आकस्मिक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान अनुपस्थित सहायक अधापिका वर्षा सिंह कंपोजिट दुमहान, रीता देवी, सत्यप्रकाश कंपोजिट कादल का बीएसए ने तत्काल वेतन अवरुद्ध करने का आदेश दे दिया। इसी प्रकार उ0प्रा0वि0 झारोकला के प्रधानाध्यापक बी0 पी0 मेहता का कंपोजिट ग्रांट का व्यय पंजिका, स्टॉक पंजिका न दिखाने, विद्यालय की रगाई पुताई ठीक से न कराने, कक्षा कक्ष की सफाई ना कराने तथा विद्यालय की व्यवस्था ठीक न कर कंपोजिट ग्रांट का अपव्यय करने के क्रम में वेतन अवरुद्ध कर दिया।

बीएसए ने सुधार हेतु एक हफ्ते का अल्टीमेटम दिया औऱ कहा कि विद्यालय की व्यवस्था सुधार कर फोटोग्राफ तथा व्यय, स्टॉक पजिका का अवलोकन कराएंगे अन्यथा कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी।

शनिवार को अचानक बेसिक शिक्षा अधिकारी के छापेमारी से अध्यापकों की धड़कन बढ़ गई और अध्यापक ये दुआ करते रहे कि साहब कहीं मेरे स्कूल पर न पहुँच जाए। हालांकि बीएसए ने दुद्धी ब्लॉक के मात्र 7 विद्यालयों का ही निरीक्षण किया जिसमें एक प्रधानाध्यापक सहित 4 अनुपस्थित मिलने पर वेतन रोकने की कार्यवाही की, जिससे अन्य अध्यापकों में पूरे दिन हड़कंप मचा रहा।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!