चुआड़ का पानी पीने को मजबूर लोगों को मिलेगा शुद्ध पानी, जिपं कराएगा ब्लास्टिंग कूपों का निर्माण

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

चुआड़ का पानी पीने को मजबूर नागरिकों को जल्द मिलेगी इससे निजात

● ऐसे 45स्थानों पर जिला पंचायत कराएगा ब्लास्टिंग कूपों का निर्माण

● 15वें वित्त आयोग की टाइड ग्राण्ट के अन्तर्गत कराया जायेगा ब्लास्टिंग कूपों का निर्माण

● विकास खण्ड घोरावल मेंं 19, चोपन में 23, दुद्धी में 2, नगवां में एक ब्लास्टिंग कूप का कराया जाएगा निर्माण

सोनभद्र । आधुनिक युग में जहाँ लोग चाँद की सैर करने लगे हैं और जागरूक तबका आरओ का पानी पी रहा है, वहीं दूसरी ओर आजादी के इतने वर्षों बाद भी आदिवासी बाहुल्य जनपद सोनभद्र के गरीब आदिवासी परिवार अब भी चुआड़ खोदकर अपनी प्यास बुझा रहा है। अब जिला पंचायत ने इसकी सुधि ले ली है। इसी क्रम में जिला पंचायत अब ऐसे 45 स्थानों का चिन्हांकन किया है, इन सभी स्थानों पर अब ब्लास्टिंग कूपों का निर्माण कराया जाएगा।

मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 अमित पाल शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि “जिला पंचायत द्वारा यानी अध्यक्ष जिला पंचायत व सदस्यगण जिला पंचायत के प्रस्ताव पर जिलाधिकारी से प्राप्त दिशा-निर्देश के क्रम में सोनभद्र जिले में जिन-जिन स्थानों यानी पहाड़ी इलाकों एवं दुर्गम जगहों पर जहाँ, स्थानीय नागरिक हैण्डपम्प के बजाय बरसात यानी चुआड़ का पानी कतिपय कारणों से पी रहे हों, उन स्थानों पर कुआेंं/कूपों की व्यवस्था करके शुद्ध पेयजल की व्यवस्था की जायेगी। जिसके लिए जरूरत के मुताबिक ब्लास्टिंग करके, ब्लास्टिंग कूप का निर्माण 15वें वित्त आयोग की टाइड ग्राण्ट के अन्तर्गत कराया जायेगा। उन्होंने बताया है कि ऐसी जगहों का चिन्हांकन किया है कि जिनकी संख्या लगभग 45 है, इन सभी 45 स्थानों पर ब्लास्टिंग कूपों का निर्माण कराया जायेगा।”

अपर मुख्य अधिकारी संतोष कुमार त्रिपाठी ने बताया है कि “विकास खण्ड घोरावल मेंं 19, चोपन में 23, दुद्धी में 2, नगवां में एक ब्लास्टिंग कूप का निर्माण कराये जाने का प्रस्ताव है। ब्लास्टिंग कूपों के निर्माण हो जाने से यकीनन स्थानीय नागरिकों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध होने के साथ ही चुआड़ से पानी की स्थिति भी दूर होगी।”



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!